अलविदा अटल.. स्मृति स्थल पर पंचतत्व में विलीन हुए अटल बिहारी वाजपेयी

डीएन ब्यूरो

भारत रत्न, लोकप्रिय राज नेता और तीन बार देश के प्रधानमंत्री रहे चुके अटल बिहारी वाजपेयी पंचतत्व में विलीन हो गये हैं। राजधानी दिल्ली के राष्ट्रीय स्मृति स्थल पर अटल जी को हजारों लोगों ने गमगीम माहौल में अंतिम विदायी दी। दिवगंत राजनेता अटल जी के अंतिम संस्कार का पूरी ब्यौरा डाइनामाइट न्यूज़ पर..

अटल जी को मुखाग्नि देती उनकी दत्तक पुत्री
अटल जी को मुखाग्नि देती उनकी दत्तक पुत्री

नई दिल्ली: भारत रत्न और देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी देश की राजधानी दिल्ली के राष्ट्रीय स्मृति स्थल में पंचतत्व में विलीन हो गये। हजारों की तादाद में पहुंचे आम और खास लोगों ने वाजपेयी जी को नम आंखों से अंतिम विदायी दी। अटल बिहारी वाजपेयी का अंतिम संस्कार राष्ट्रीय स्मृति स्थल में पूर्ण राजकीय सम्मान के साथ किया गया।

अटल जी की अंतिम यात्र में उमड़ा जनसैलाब

 

यह भी पढ़ें: कवि हृदय अटल बिहारी वाजपेयी के बारे में जाने कुछ बड़ी बातें 

अनंत सफर पर निकले अटल जी के अंतिम संस्कार के मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, सुषमा स्वराज, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव, सांसद धर्मेन्द्र यादव, दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल, छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह, महाराष्ट्र का सीएम देवेंद्र फणनवीस, उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, बिहार के सीएम नीतीश कुमार और उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत,​ कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद, अशोक गहलोत, आनंद शर्मा समेत कई मंत्री, नेता और देश की आम-जनता मौजूद रही।  

 

यह भी पढ़ें: जब 'मौत से ठन गई' थी तो क्या कहा था अटल बिहारी वाजपेयी ने.. 

 

अटल जी के चिर निद्रा में विलीन होने से देश-विदेश में शोक की लहर है। दिल्ली और कई राज्यों में स्कूलों समेत सरकारी कार्यालयों में राजकीय अवकाश घोषित किया गया। राजधानी दिल्ली में स्थित ब्रिटिश उच्चायोग में पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के सम्मान में यूनियन जैक आधा झुकाया गया। इसके अलावा कई देशों ने भी अपना झंडा झुकाये रखा।

 

 

यह भी पढ़ें: बुझ गया अटल सितारा, नहीं रहे वाजपेयी, पूरा देश गमगीन 

दिवंगत अटल के अंतिम दर्शन के लिये उनके घर पर शुक्रवार सुबह नेताओं समेत आम जनता की भारी भीड़ रही। अटल निवास से वाजपेयी का पार्थिव शरीर दोपहर को भाजपा मुख्यालय पहुंचा, जहां कार्यकर्ताओं समेत आम जनता ने दोहपर लगभग 2 बजे तक अपने चहेते नेता के अंतिम दर्शन किये और श्रद्धांजलि दी। भाजपा मुख्यालय में दिवंगत नेता के अंतिम दर्शन के लिए हजारों की संख्या में लोग पहुंचे। जहां नेताओं से लेकर आम जनता भी उनको श्रद्धांजलि देने पहुंची।

 

 

यह भी पढ़ें: अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिया भावुक संदेश 

दोपहर बाद सेना की एक विशेष गाड़ी पर वाजपेयी की अंतिम यात्रा निकाली गई। तीनों सेनाओं की एक संयुक्त टुकड़ी उनके पार्थिव शरीर को लेकर निकली। अटल की इस अंतिम यात्रा में भारी जनसैलाब उमड़ पड़ा। 

 

अटल जी के दर्शन को भाजपा मुख्यालय में उमड़ी भीड़

यह भी पढ़ें: योगी आदित्यनाथ ने कहा- गोरखपुर से गहरा लगाव रहा है अटल बिहारी वाजपेयी का 

वाजपेयी की अंतिम यात्रा में हजारों की संख्या में लोग इकट्ठा रहे। जब उनके आवास से पार्थिव शरीर ले जाया जा रहा था तो पीछे भीड़ ने 'जब-तक सूरज चांद रहेगा, अटल जी का नाम रहेगा', 'अटल बिहारी अमर रहें' और वंदेमातरम के नारे लगाए जाते रहे।  

अटल जी को अंतिम श्रद्धांजलि अर्पित करते पीएम मोदी

 

यह भी पढ़ें: LIVE: अटल बिहारी वाजपेयी की अंतिम यात्रा शुरू 

गौरतलब है कि राजधानी दिल्ली के एम्स में गुरूवार को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने अंतिम सांस ली। वाजपेयी की सेहत पिछले कुछ दिनों से चिंताजनक थी। एम्स के द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक अटल बिहारी ने कल शाम को 5 बजकर 5 मिनट पर अंतिम सांस ली।

यह भी पढ़ें: भाजपा मुख्यालय में वाजपेयी के अंतिम दर्शन व श्रद्धांजलि के लिये उमड़ी आम और खास लोगों की भीड़ 

भारत रत्न वाजपेयी की मौत की खबर से पूरे देश में गमगीन माहौल है। वाजपेयी के चहेतों में गहरा शोक है। आम और खास हर व्यक्ति.. अपने लोकप्रिय नेता के निधन पर गहरे गम में डूबा हुआ है।


 

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार