DN Exclusive: यूपी सरकार की उपेक्षा की मार झेल रहा करोड़ों की लागत से बना जनेश्वर मिश्र पार्क

डीएन ब्यूरो

सपा सरकार की महत्वाकांक्षी परियोजनाओं में शुमार रहा जनेश्वर मिश्र पार्क आज बदहाली की मार झेल रहा है। लाखों रुपए खर्च करके बनाए गए उपकरणों को अब जंग खा रहे हैं। सही तरीके से रखरखाव ना होने के कारण यहां के सैलानियों को मायूसी की सामनाकरना पड़ रहा है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..


लखनऊः अगर आप लखनऊ के गोमतीनगर स्थित जनेश्वर मिश्र पार्क आने का मन बना रहे हैं तो आपको अपनी सुरक्षा का खास ख्याल रखना पड़ेगा। इसका कारण यह है की 376 एकड़ के विशाल क्षेत्रफल में फैले पार्क में आवारा कुत्तों का आंतक। इन आवारा कुत्तों द्वारा पहले भी कई सैलानियों पर हमला किया जा चुका है। जिससे यहां आने वाले सैलानियों में आवारा कुत्तों का खौफ रहता है।

यह भी पढ़ें: एचपी गैस प्लांट के बाहर हुआ बड़ा हादसा, अचानक लगी ट्रक में आग

इस पार्क में रखरखाव की कमी भी देखने को मिली है। एलडीए की ओर से नगर निगम को कुत्तों को पकड़ने की जिम्मेदारी दी गई है, मगर पशु क्रूरता से जुड़े कानूनों का हवाला देकर लखनऊ नगर निगम ने आवारा कुत्तों को पार्क से पकड़ने में अपनी असमर्थता जता दी है।

यह भी पढ़ें: हत्या-डकैती जैसी घटनाओं को रोकने के लिए गश्त के दौरान पुलिस की हुई बहस

 पार्क की बदहाली की एक बड़ी वजह बेहतर रखरखाव की कमी
इस पार्क में बोटिंग के लिए लाई गई लाखों रूपये की लागत से नावें जंग खा रही हैं। जबकि झील किनारें लगी रेलिंग में लग रही जंग सरकारी उपेक्षा की हकीकत बंया कर रही हैं।

एलडीए की लापरवाही पार्क की सुन्दरता पर पड़ी भारी
लखनऊ विकास प्राधिकरण के पास जनेश्वर मिश्र पार्क के रखरखाव का जिम्मा है।मगर एलडीए अफसरों की सुस्ती के कारण यहां टिकट खरीद कर पर्यावरण के सानिध्य में आकर कुछ समय बिताने वाले लोगों को बेहतर व्यवस्था के नाम पर केवल बदइंतजामी देखने को मिल रही है। अगर समय रहते जनेश्वर मिश्र पार्क की बदहाली पर सरकार की निगाह नहीं पड़ी तो इसका असर यहां घूमने आने वाले सैलानियों की संख्या पर भी देखने को मिल सकता है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार