आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के पहले मुख्य न्यायाधीश के रूप में न्यायमूर्ति विक्रम नाथ नियुक्त

डीएन ब्यूरो

न्यायमूर्ति विक्रम नाथ को बुधवार को आंध्र प्रदेश के नव-गठित उच्च न्यायालय के पहले मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया है।

न्यायाधीश विक्रम नाथ
न्यायाधीश विक्रम नाथ

अमरावती: इलाहाबाद उच्च न्यायालय के वरिष्ठतम न्यायाधीश न्यायमूर्ति विक्रम नाथ को बुधवार को आंध्र प्रदेश के उच्च न्यायालय के पहले मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्त करने पर मोहर लगा दी गई है।

वाइस एडमिरल करमबीर सिंह होंगे देश के अगले नौसेना प्रमुख, सरकार ने दी मंजूरी

प्रीम कोर्ट के कोलेजियम में शामिल भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायाधीश एसए बोबडे और एनवी रमाना ने न्यायमूर्ति विक्रम नाथ के नाम की सिफारिश की थी।

जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष देश के पहले लोकपाल के रूप में ली शपथ

तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के संयुक्त उच्च न्यायालय के विभाजन के बाद इस साल 1 जनवरी 2019 को आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय की स्थापना की गई थी। स्‍थापना के बाद विक्रम नाथ को पहले न्‍यायाधीश के रूप में कार्य करने का मौका मिल रहा है। 

पद्मजा को फिजी गणराज्य में अगले उच्चायुक्त के रूप में किया गया नियुक्त..

जस्टिस नाथ ने 1986 में कानून की डिग्री प्राप्त की और इलाहाबाद में एक वकील के रूप में शुरुआत की थी। उन्‍हें 2004 में इलाहाबाद उच्च न्यायालय के अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया था। साथ ही 2006 में स्थायी न्यायाधीश के पद पर नियुक्त कर दिया गया था।

देश को मिले पांच जज
सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने एक बड़ा कदम उठाते हुए राजस्थान हाईकोर्ट सहित देश के 5 हाईकोर्ट में नए मुख्य न्यायाधिशों की नियुक्ति की है। दिल्ली हाईकोर्ट के वरिष्ठ न्यायाधीश एस. रविन्द्र भट्ट राजस्थान हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश होंगे। 

कालेजियम ने की थी सिफारिश
राजस्थान हाईकोर्ट के साथ ही सुप्रीम कोर्ट कालेजियम ने छत्तीसगढ़, मेघालय, आंध्रप्रदेश और कर्नाटक हाईकोर्ट के लिए भी चीफ जस्टिस की नियुक्ति की सिफारिश की थी। कालेजियम ने केरल हाईकोर्ट के जज जस्टिस पीआर रामचंद्र मेनन को छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट, पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के जज जस्टिस एके मित्तल को मेघालय हाईकोर्ट, इलाहाबाद हाईकोर्ट के जज जस्टिस विक्रम नाथ को आंध्रप्रदेश हाईकोर्ट और बांबे हाईकोर्ट के जज जस्टिस एएस ओका को कर्नाटक हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस नियुक्त करने की भी सिफारिश की थी। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …