अरब सागर में उठा तूफान कमजोर होकर तीव्र दबाव के क्षेत्र में तब्दील

डीएन ब्यूरो

अरब सागर में उठा तूफान महा अब और कमजोर होकर मात्र तीव्र दबाव के क्षेत्र (डीप डिप्रेशन) में तब्दील हो गया है।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

गांधीनगर: अरब सागर में उठा तूफान महा अब और कमजोर होकर मात्र तीव्र दबाव के क्षेत्र (डीप डिप्रेशन) में तब्दील हो गया है। मौसम विभाग की आज सुबह जारी बुलेटिन के अनुसार आज शाम तक यह और कमजोर होकर मात्र डिप्रेशन यानी सामान्य दबाव के क्षेत्र में तब्दील हो जायेगा। सुबह साढ़े पांच बजे यह गुजरात के पोरबंदर तट से 200 किमी दक्षिण दक्षिणपश्चिम में वेरावल से 150 किमी पश्चिम दक्षिण पश्चिम तथा निकटवर्ती केंद्रशासित प्रदेश दीव के तट से 180 किमी पश्चिम दक्षिण पश्चिम में स्थित था।

 यह भी पढ़ें: रोबोटिक टेबलेट से हाईटेक बनेंगे बिहार के विद्यार्थी

इसके असर से राज्य भर में बादलयुक्त मौसम है तथा कई स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा हुई है। आज सुबह दस बजे तक 55 तालुका में बरसात हुई है जिसमें सर्वाधिक सूरत के उमरपाडा में 53 मिलीमीटर है। दीव में भी वर्षा का दौर जारी है। गिर सोमनाथ, अमरेली, भावगनर, जूनागढ़ और दीव में अगले 24 घंटे के दौरान भारी वर्षा की चेतावनी जारी की गयी है। तूफान के तीव्र दबाव के क्षेत्र में बदल जाने से हवाओं की गति भी अब पहले की तुलना में कम यानी 65 से 75 किमी प्रति घंटा तक ही रहने की संभावना है।

 यह भी पढ़ें: करतारपुर गलियारे पर सुरक्षा संबंधी चिंताओं के बादल 

दीव में जहां किनारे के इलाकों से लगभग 1500 लोगों को स्थानांतरित किया गया है, तटीय इलाकों में लोगों की आवाजाही पर लगे प्रतिबंध को कल से पूरी तरह हटा लिये जाने की संभावना है। वहां भी सुबह से वर्षा हो रही है। गुजरात में सरकारी तंत्र तूफान का खतरा लगभग टल जाने के बावजूद सतर्क बना हुआ है। स्थिति पर अब भी नजर रखी जा रही है। तूफान के मद्देनजर गुजरात तट से समुद्र में गयी 12500 से अधिक नौकाएं लौट आयी हैं। ज्ञातव्य है कि इससे पहले गत जून माह में मानसून के आगमन से पहले भी गुजरात की तरफ बढ़ रहा अरब सागर में उठा तूफान वायु तट से टकराने के पहले ही कमजोर पड़ गया था। (वार्ता) 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार