करतारपुर गलियारे पर सुरक्षा संबंधी चिंताओं के बादल

डीएन ब्यूरो

गुरुनानक देव के 550वें प्रकाशोत्सव के मौके पर करतारपुर साहिब गलियारे के उद्घाटन में 72 घंटे से कम समय रह गया है कि लेकिन भारत विरोधी तत्चों की गतिविधियों की सूचनाओं एवं पाकिस्तान की ओर से सुरक्षा संबंधी इंतजामों की पुख्ता जानकारी नहीं मिलने के कारण सरकार के माथे पर चिंता की लकीरें गहरा रहीं हैं।

करतारपुर साहिब
करतारपुर साहिब

नई दिल्ली: गुरुनानक देव के 550वें प्रकाशोत्सव के मौके पर करतारपुर साहिब गलियारे के उद्घाटन में 72 घंटे से कम समय रह गया है कि लेकिन भारत विरोधी तत्चों की गतिविधियों की सूचनाओं एवं पाकिस्तान की ओर से सुरक्षा संबंधी इंतजामों की पुख्ता जानकारी नहीं मिलने के कारण सरकार के माथे पर चिंता की लकीरें गहरा रहीं हैं।

यह भी पढ़ें: करतारपुर कॉरिडोर को लेकर भारत पाक के बीच हुआ समझौता

सरकारी सूत्रों ने आज कहा कि यह छिपी बात नहीं है कि पाकिस्तान ने भारत की 20 साल पुरानी मांग को बुरी नीयत से स्वीकार किया है और वह इसके माध्यम से हमारे देश को अस्थिर करने की साजिश रच रहा है लेकिन भारत ने इस परियोजना को सकारात्मक रूप में, उत्साह के साथ और सिखों की भावनाओं के अनुरूप लिया तथा एक साल के भीतर ढांचागत सुविधाएं तैयार कर दीं हैं। (वार्ता) 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार