सुरेश प्रभु ने शिक्षा-उद्योग को जोड़ने पर दिया बल, कहा- GDP में होगा जोरदार इजाफा

डीएन ब्यूरो

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने शिक्षा और उद्याेग को जोड़ने पर बल देते हुए मंंगलवार को कहा कि इस गठजोड़ से सकल घरेलू उत्पाद(जीडीपी) में जोरदार इजाफा होना संभव है। प्रभु ने कहा कि GDP में सेवा क्षेत्र की दो तिहाई हिस्सेदारी है, जिसमें शिक्षा की महत्वपूर्ण भूमिका है। डाइनामाइट न्यूज़ की खबर में पढ़ें और क्या बोले सुरेश प्रभु

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु
केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु

नयी दिल्ली: केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने शिक्षा और उद्याेग को जोड़ने पर बल देते हुए मंंगलवार को कहा कि इस गठजोड़ से सकल घरेलू उत्पाद(जीडीपी) में जोरदार इजाफा होना संभव है।

प्रभु ने यहां उच्च शिक्षा और उद्योग के संबंधों पर आयोजित एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि जीडीपी में सेवा क्षेत्र की हिस्सेदारी दो तिहाई है जिसमें शिक्षा की महत्वपूर्ण भूमिका है। अगर उद्योग और शिक्षा का आपसी संबंध स्थापित कर दिया जाए तो जीडीपी में भारी वृद्धि दर्ज की जा सकती है।  

 

उन्होंने कहा कि सरकार शिक्षा को उद्योगों के अनुरुप बनाने की दिशा में काम कर रही है और इसके बेहतर परिणाम सामने आ रहे हैं। सरकार जीडीपी में सेवा क्षेत्र का हिस्सा बढ़ाना चाहती है और इसके लिये उच्च शिक्षा पर ध्यान देना जरुरी है। इसके लिये विभिन्न उद्योग घरानों और विश्वविद्यालयों तथा शिक्षा संस्थानों के साथ बातचीत कर रही है। 

 

सुरेश प्रभु को सुनते गणमान्य 

 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मौजूदा समय में रोजगार के अवसरों का सृजन करना प्रमुख चुनौती है और सेवा क्षेत्र इसके समाधान में महत्वपूर्ण भूमिका निभा में सकता है।  (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …