महराजगंज: छात्रवृत्ति के अभाव में स्कूल की फीस ना देने पर बेबस हुए छात्र, बैठे धरने पर

डीएन ब्यूरो

बच्चों को पढ़ाई में बढ़ावा देने के बजाय उन्हें प्रदर्शन करने और प्रशासन की दहलीज पर धरना देने को मजबूर किया जा रहा है। पैसे के अभाव के कारण स्कूल फीस ना दिए जाने पर उन्हें परीक्षा से वंचित रखने की बात की जा रही है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..


महराजगंज: जिले के सरस्वती देवी महाविद्यालय के सौजन्य से छात्रों की पढ़ाई में बढ़ावा देने के बजाय उन्हें प्रदर्शन करने को मजबूर किया जा रहा है। छात्रवृत्ति के अभाव और पारिवारिक स्थिति कमजोर होने से शुल्क जमा न करने के लिए स्कूल से फटकार और दवाब बनाया जा रहा है। वहीं इस वक्त समाजकल्याण अधिकारी और स्कूल के लोग अपना पल्ला झाड़ कर एक दूसरे को मोहरा बना रहे हैं।

यह भी पढ़ें: लखनऊ: ऑटो चालक की हेलमेट पहनकर पिटाई करने वाले दरोगा को भेजा गया जेल

छात्रों ने शिकायत पत्र में जिलाधकारी को अवगत कराया है कि वे अनुसूचित जनजाति के छात्र हैं और छात्रवृत्ति न मिलने के अभाव और आर्थिक स्थिति दैयनीय होने के कारण हम शुल्क देने में असमर्थ हैं और आगामी प्रायोगिक परीक्षा में बाध्य होने में विवशता दिखाई दे रही है।

बेबस छात्र

यह भी पढ़ें: महराजगंज: बिजली की चपेट में आने से युवक की मौत, एक महिला हुई घायल

आखिर क्यों पढ़ने की उम्र में धरने की दहलीज पर लाकर खड़ा करने वाले जिम्मेदार छात्रों के भविष्य को बहती दरिया में डुबोने पर आमदा हैं। या तो यह प्रशासन की अनदेखी है या फिर जिम्मेदार प्रशासन की आँखों मे धूल झोंक रहें हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार