महराजगंज: लकड़ी तस्करों को रोकने गए रेंजर और दारोगा को गाड़ी से कुचलने की कोशिश, हालत गंभीर

डीएन ब्यूरो

जिले में तस्करी के मामले बढ़ते जा रहे हैं। सोमवार की रात कुछ लकड़ी तस्‍करों को रेंजर और वन दारोगा ने रडार पर लेते हुए उन्हें पकड़ने की कोशिश की लेकिन वहीं तस्करों ने उन्हें अपने वाहन से कुचल कर मारने का प्रयास किया। फिलहाल दोनों की हालत गंभीर बताई जा रही है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..

दुर्घटनाग्रस्त कार
दुर्घटनाग्रस्त कार

महराजगंज: सोमवार की रात जिले में लकड़ी तस्करों को पकड़ने के दौरान रेंजर और वन दारोगा गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

यह भी पढ़ें: चार नामी आईएएस टॉपर्स देंगे नौजवानों को आईएएस की परीक्षा में सफल होने का मूलमंत्र

महराजगंज में सोमवार की देर रात लक्ष्मीपुर की तरफ से तस्करी की लकड़ी लादकर पिकअप से आ रहे वन माफियाओं ने पीछा करने पर लक्ष्मीपुर के रेंजर दयाशंकर तिवारी तिवारी के वाहन को जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि अनियंत्रित होकर रेंजर का वाहन पेड़ से टकरा गया। घटना में रेंजर दयाशंकर तिवारी और वन दारोगा रामसूरत गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। दोनों को महराजगंज के एक निजी' केएमसी"अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां दोनों की हालत गंभीर बताई जा रही है।

यह भी पढ़ें: ‘डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019’ आईएएस परीक्षा से जुड़ा सबसे बड़ा महाकुंभ

घायल रेंजर

बताया जा रहा है कि वन कर्मियों को सूचना मिली कि लक्ष्मीपुर रेंज से लकड़ी काटकर वन तस्कर महराजगंज की ओर रवाना हो  रहे हैं। सूचना पर रेंजर दयाशंकर तिवारी अपने साथियों के साथ फरेंदा रोड स्थित चेहरी के पास तस्करों के वाहन का इंतजार करने लगे। जैसे ही पिकअप दिखाई दिया, उन्होंने बेरीकेडिंग लगाकर उसे रुकने का इशारा किया। वाहन चालक रुकने की बजाए बैरिकेडिंग तोड़कर भागने लगा। यह देख रेंजर दयाशंकर तिवारी अपने निजी कार से वन तस्करों का पीछा करने लगे। रसूलपुर के पास वह अपने वाहन को पिकअप के आगे लाकर खड़ा कर दिये जैसे ही उन्होंने वाहन खड़ा किया वैसे ही तुरंत अपने को घिरता देख तस्कर उनके कार को पीछे से ठोकर मार कर फरार हो गया।

घटना की सूचना पाकर महराजगंज डीएफओ मौके पर पहुंच गए। पुलिस टीम ने भी घेराबंदी कर वन तस्करों को रोकने की कोशिश की, लेकिन वे भाग निकले। महराजगंज के नवागत डीएफओ पुष्प कुमार ने कहा कि वन तस्करों की तलाश की जा रही है। पिकअप का नंबर ट्रेस कर लिया गया है।वे किसी भी हाल में बच नही पाएंगे जल्द ही उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार