RBI गवर्नर शक्तिकांत दास मौद्रिक समीक्षा नीति की बैठक से पूर्व सार्वजनिक बैंकों के CEO से मिले

डीएन ब्यूरो

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकान्त दास ने आज सार्वजनिक बैंकों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक में गवर्नर ने बैंकों को बताया कि रिजर्व बैंक की बैंकिंग क्षेत्र से क्या उम्मीदें हैं। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट..

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास
RBI गवर्नर शक्तिकांत दास

नई दिल्ली: भारतीय रिज़र्व बैंक के गवर्नर शक्तिकान्त दास ने आज पब्लिक सेक्टर के बैंकों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (सीईओ) के साथ बैठक की। बैठक के बाद दास ने कहा कि बैंकों के सीईओ के साथ इस बैठक का मकसद मुख्य रूप से उन्हें यह बताना था कि बैंकिंग क्षेत्र से रिजर्व बैंक की क्या उम्मीद हैं। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों से हम विशेष उम्मीद रखते हैं। इसके अलावा दास ने उनसे मौजूदा बैंकिंग स्थिति और भविष्य के परिदृश्य को लेकर चर्चा की।

यह भी पढ़ें: बजट 2019: लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने 30 जनवरी को बुलाई सर्वदलीय बैठक
7 फरवरी को होगी मौद्रिक समीक्षा नीति की बैठक 
रिज़र्व बैंक की 7 फरवरी को चालू वित्त वर्ष की छठी द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा नीति की बैठक होनी है। यह नए गवर्नर के कार्यकाल में पहली मौद्रिक समीक्षा बैठक होगी। उम्मीद जताई जा रही है कि आगामी मौद्रिक समीक्षा बैठक में आरबीआई ब्याज दरों में कटौती कर सकता है। खुदरा महंगाई के काबू में होने के बाद फरवरी की बैठक में आरबीआई का रुख ''सख्त'' से ''न्यूट्रल'' होनी की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें: 8 फरवरी से आम्रपाली के निर्माणाधीन फ्टैलों का काम फिर से होगा शुरू 
बता दें कि दिसंबर महीने में महंगाई दर 18 महीनों के निचले स्तर 2.19 फीसद पर जा चुकी है। दिसंबर 2017 में यह दर 5.21 फीसद थी। आरबीआई ने चालू वित्त वर्ष के लिए महंगाई का लक्ष्य चार फीसद रखा है।
   


 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

#DNPoll क्या कश्मीर में हुआ आतंकी हमला मोदी सरकार की नाकामी है?

हां
51.09%
नहीं
48.91%