सोनभद्र नरसंहार: सीएम के सोनभद्र जाने पर प्रियंका का तंज भरा स्‍वागत

डीएन ब्यूरो

दो दिन पहले सोनभद्र जाते समय गिरफ्तार की जाने वाली यूपी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने आज ट्व‍िटर के माध्‍यम से मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के सोनभद्र दौरे का तंज भरा स्‍वागत किया है। साथ ही अपने ट्वीट से घटना पर गंभीर न होने का आरोप भी मढ़ दिया है। डाइनामाइट न्‍यूज़ पर पढ़ें पूरी खबर..

सोनभद्र पहुंचे सीएम योगी (बायें) व प्रियंका गांधी (दायें)
सोनभद्र पहुंचे सीएम योगी (बायें) व प्रियंका गांधी (दायें)

नई दिल्‍ली: उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ आज सोनभद्र के उंभा गांव पीड़ितों से मिलने पहुंचे थे। हालांकि जब वह पीड़ितों को चेक बांट रहे थे उस समय प्रियंका गांधी योगी सरकार पर बेहद ही सधे निशानेबाज की तरह ट्वीट दाग रही थीं।

सीएम के दौरे को लेकर प्रियंका गांधी वाड्रा ने पहला ट्वीट 21 जुलाई को दोपहर 12.29 पर किया। जिसमें उन्‍होंने सीएम के सोनभद्र के जाने का स्‍वागत करते हुए लिखा कि देर से ही सही पीड़ितों के साथ खड़ा होना सरकार का फर्ज है। इसके साथ उन्‍होंने बिना चूके प्रदेश सरकरा पर करारा हमला बोलते हुए लिखा कि सरकार को अपना फर्ज पहचानना चाहिए। इससे उन्‍होंने प्रदेश सरकार की कार्यशैली और क्षमता दोनों पर प्रश्‍नचिह्न खड़ा कर दिया।

इसके बाद जब मुख्‍यमंत्री ने धड़ाधड़ कई घोषणाएं की तब प्रियंका गांधी ने फिर ट्वीट किया। यह ट्वीट दोपहर बाद 3.17 पर किया गया। जिसमें साफ तौर पर यह कहा गया कि उंभा गांव के पीड़ितों की आवाज जब कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और न्याय पसंद लोगों ने उठाई, तब उत्तर प्रदेश सरकार को भी यह घटना गंभीर लगी। 

उनके इस ट्वीट ने स्‍पष्‍ट कर कि राज्‍य सरकार ने इतनी बड़ी घटना होने के बाद भी सुस्‍ती दिखाई और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के बाद प्रदेश सरकार अपने काम को करने के लिए आगे बढ़ी है। साथ ही अपने इस ट्वीट से उन्‍होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को उनके प्रदर्शन की जीत का भी एहसास कर दिया।

गौरतलब है कि जिस तरीके से दो दिन पहले उन्‍हें सोनभद्र जाने से रोका गया और उसके बाद उन्‍होंने रोड पर ही धरना शुरू कर दिया था। बाद में प्रियंका गांधी के 24 घंटे से अधिक धरना देने से यह साफ स्‍पष्‍ट हो गया था कि वह डिगने वाली नहीं हैं। आखिरकर प्रशासन को सोनभद्र के पीड़ितों को लेकर चुनार किले के गेस्‍ट हाउस में प्रियंका से मिलवाने लाना पड़ा था।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …