Mann ki Baat: प्रधानमंत्री मोदी तंबाकू और ई. सिगरेट के दुष्प्रभावों के बारे में देशवासियों को बताया

डीएन ब्यूरो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवाओं से तंबाकू विशेषकर ई. सिगरेट का निषेध करने का आह्वान करते हुए रविवार को कहा कि इसके के संबंध में भ्रांतियां फैलाई जा रही हैं।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवाओं से तंबाकू विशेषकर ई. सिगरेट का निषेध करने का आह्वान करते हुए रविवार को कहा कि इसके के संबंध में भ्रांतियां फैलाई जा रही हैं। मोदी ने आकाशवाणी पर अपने मासिक कार्यक्रम ‘मन की बात’ में देशवासियों को तंबाकू और ई. सिगरेट के दुष्प्रभावों के बारे में आगाह किया। उन्होेंने कहा कि तंबाकू का सेवन करने से युवाओं का शारीरिक और मानसिक विकास प्रभावित होता है और वे अपने जीवन लक्ष्य से भटक जाते हैं।

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित अन्य नेताओं ने मनमोहन सिंह को जन्मदिन की बधाई दी

उन्होंने कहा कि तंबाकू के सेवन के परंपरागत तरीकों से लोग भली भांति परिचित है लेकिन ई. सिगरेट के तौर तरीेके अलग हैं। इसका इस्तेमाल करने वाले लोगों को सामान्य तौर पर पहचान नहीं हो सकती। उन्होंने कहा कि ई. सिगरेट के बारे में भ्रांतियां फैलायी जा रही है और इसे हानिकारक नहीं माना जा रहा है। लेकिन इसमें निकोटीन है और यह मस्तिष्क को प्रभावित करता है।

यह भी पढ़ें: भारत ने जम्मू कश्मीर पर ब्रिटेन की लेबर पार्टी के प्रस्ताव को खारिज किया

उन्होंने कहा कि तंबाकू का आदी हो जाने के परिणाम स्वास्थ्य के लिए खतरनाक होते हैं और इससे छुटकारा पाना कठिन हो जाता है। तंबाकू को सेवन करने वाले लोग अक्सर कैंसर, मधुमेह और उच्च रक्तचाप के मरीज हो जाते हैं। (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार