'मन की बात' में पीएम मोदी ने साधा इमरजेंसी पर निशाना

डीएन संवाददाता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 33वें 'मन की बात' कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित किया।

पीएम मोदी की 'मन की बात'
पीएम मोदी की 'मन की बात'

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 33वें 'मन की बात' कार्यक्रम में देश को संबोधित किया। देशवासियों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने 1975 में इंदरा गांधी सरकार की तरफ से लगाई  इमरजेंसी ने पर निशाना साधा। पीएम ने इमरजेंसी का जिक्र करते हुए कहा कि इमरजेंसी ने देश को काल कोठरी बना दिया था।

'मन की बात' में पीएम ने अटल बिहारी बाजपेयी की कविता पढ़ी। 'झुलसाता जेठ मास, शरद चांदनी उदास, सिसकी भरते सावन का अंतरघट रीत गया, एक बरस बीत गया' ये कविता आपातकाल के दौरान अटल बिहारी ने जेल में लिखी थी।

'मन की बात' की मुख्य बातें

1. जगन्नाथ यात्रा: पीएम मोदी ने भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा के देशवासियों को दी बधाई दी और कहा कि भगवान जगन्नाथ गरीबों के देवता हैं।

2. ईद की बधाई: रमजान का पाक महीना अब खत्म हो चला है। कार्यक्रम में पीएम मोदी ने पुरे देश को ईद की शुभकामनाएं  दी।

3. स्वच्छता अभियान: स्वच्छता अभियान का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि स्वच्छता पाने के लिए हमें लगातार काम करना पड़ेगा। मुझे खुशी है कि आज स्वच्छता सिर्फ सरकारी काम नहीं रहा बल्कि ये एक आंदोलन बन गया है। साथ ही कहा कि जीवन में कुछ भी अच्छा करना है, तो कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। स्वच्छता का भी विषय ऐसा ही है।

4. यूपी के मुबारकपुर का जिक्र: पीएम मोदी ने यूपी के मुबारकपुर का जिक्र किया और कहा कि यहां के ग्रामीणों ने मिलकर शौचालय बनाने का फैसला किया था और सरकार को 17 लाख रुपये लौटाए दिए थे। इसके अलावा आंध्र प्रदेश के विजनगरम का जिक्र करते हुए कहा कि यहां ने प्रशासन और जनता ने 100 घंटों में 71 ग्राम पंचायतों में दस हजार शौचालय बनाए।

5. योग दिवस: पीएम मोदी ने कहा कि पूरे विश्व में योग दिवस मनाया गया। साथ ही योग दिवस की महत्ता का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि चीन से लेकर पेरू तक लोगों ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर योग किया। पीएम ने कहा कि पहली बार लखनऊ में बारिश में योग करने का अवसर प्राप्त हुआ।

6. केरल का किस्सा: केरल की बात का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि मुझे कार्यक्रम में बताया गया कि वहां बुके नहीं बुक दी जाती है। हम धीरे-धीरे बुके की जगह बुक या खादी का रूमाल देने की आदत डाल रहे हैं और सरकार में भी लागू कर रहे हैं।

7. ई-जेम: 'मन की बात' में पीएम मोदी ने कहा कि कोई अगर सरकार को कुछ बेचना चाहता है तो ई-जेम पर रजिस्टर कर सकता है।

8. इसरो: योग के अलावा हम अंतरिक्ष विज्ञान पर भी गर्व करते हैं। दो दिन पहले ISRO ने 31 सैटलाइट्स लॉन्च किए। मंगल अभियान को 6 महीने चलना था लेकिन हमारी ताकत यह है कि 1000 दिनों के बाद भी मंगलयान काम कर रहा है।

9. खेल: खेल का जिक्र करते हुए कहा कि युवाओं का रुझान खेल की तरफ बढ़ रहा है। किदांबी श्रीकांत ने हमारा मान बढ़ाया है। हमें बच्चों को खेल का अवसर देना चाहिए। अगले ओलिंपिक के लिए सभी खिलाड़ियों को सपने सजाने चाहिए।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार