पितृ पक्ष: करें ये महाउपाय, मिलेगा पूर्वजों का आशीर्वाद

डीएन ब्यूरो

अगर आप पितृदोष से पीड़ित है ,और आपका बनता काम बिगड़ जाता है,तो करे ये महाउपाए ।दूर हो जायेगें आपके सारे कष्ट।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

उपाय : पितृ पक्ष अपने पूर्वजों को याद करने का समय होता है । इस समय की गई पूजा उपासना से उनको शांति प्राप्त होती है।पूर्वज जो अपने शरीर को त्याग कर किसी और लोक में पहुँच गए हैं, अगर वो किसी बात से नाराज होते हैं या उनकी कोई इच्छा पूरी नहीं होती या वे अप्रसन्न होते है तो उससे पितृ दोष उत्पन्न होता है। जिससे घर में कई तरह की समस्याएँ उत्पन्न होती हैं। इसे दूर करने के लिए पितरों को प्रसन्न करना पड़ता हैं। इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे उपाय जिनसे आप अपने पितरों को प्रसन्न कर सकते हैं।

इसे भी प़ढ़े: करें इन मंत्रों का जाप पूर्वज देगें आशीर्वाद

 1) पितरों का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए सम्बंधियों को अपने घर की दक्षिण दिशा की दीवार पर अपने स्वर्गीय परिजनों का फोटो लगाकर उस पर हार चढ़ाकर रोजाना उनकी पूजा उपासना करना चाहिए इससे उनका आशीर्वाद हमेशा मिलता रहेगा ।

इसे भी पढ़े: श्राद्ध से जुडी हुई कुछ विशेष बातें, जिनसे पूर्वज देंगे आशीर्वाद

2) श्राद्धों में कुछ पदार्थों का दान करना बहुत शुभ माना गया है। जैसे गंगाजल, दूध, शहद, तरस का कपड़ा, दौहित्र, कुतप (कुश) और तिल जौ चावल। इन सबका दान करना पितृ पक्ष में बड़ा शुभ माना गया है।इसके अलावा चना, मसूर, बड़ा उड़द, कुलथी, लहसुन, प्याज, सत्तू, रेंड, मूली, काला जीरा, कचनार, खीरा, काला उड़द, काला नमक, लौकी, बड़ी सरसों, काल सरसों की पत्ती, शतपुष्पी तथा बासी, अपवित्र फल या अन्न श्राद्ध में अर्पित नहीं करने चाहिए।

इसे भी पढ़े:पूर्वजों को याद करने का दिन है पितृ पक्ष

3) पितरों को प्रसन्न करने के लिए व्यक्ति को अपने स्वर्गीय सम्बधियो की पुण्य तिथि पर जरूरतमंदों गरीब और ब्राह्मणों को खाना खिलाना चाहिए खाने में मृतात्मा की मनपसंद एज वस्तु होनी चाहिए और साथ ही साथ अपनी सामर्थ्यानुसार गरीबों को वस्त्र और अन्न आदि का दान करना चाहिए।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार