जब इन बेटियों ने बसाया अपनी विधवा मां का घर, समाज में मिसाल की कायम

डीएन ब्यूरो

जिस समाज में हम रह रहे हैं वह कई बेड़ियों से बंधा हुआ है। यह बंधन न सिर्फ हमारी आजादी को खत्म कर रहा है बल्कि हमें अंदर से झकझोरता भी है। लेकिन इन सबसे ऊपर उठकर देश की बेटियों ने अपनी विधवा मां के लिए किया ऐसा कुछ कि आज हर कोई दे रहा है इसकी मिसाल। डाइनामाइट न्यूज़ की स्पेशल रिपोर्ट

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्लीः भारत को महान देश ऐसे ही नहीं कहा गया है। हमारा प्राचीन इतिहास इस बात का गवाह है कि जब-जब इस पृथ्वी पर विपदा आई है तो तब-तब धरती मां ने ऐसे सपूतों को जन्म दिया,जिन्होंने भारत की मिसाल पूरे विश्व में कायम की। 
इसका जीता-जागता उदाहरण है वो बेटियां जिन्होंने कुछ ऐसा अद्धभुत कमाल किया जिसे जानकर आज हर कोई हैरान है और इस पर बात कर रहा है। 

इन बेटियों ने समाज को दी नई दिशा, किया कमाल

1.अब तो यह हकीकत बन चुका है कि भारत की बेटियां न सिर्फ देश में बल्कि विश्व में भारत का नाम रोशन कर रही है।  

यह भी पढ़ेंः दुल्हन का WhatsApp कनेक्शन.. दूल्हे ने बारात लाने से किया इनकार 

2. आज कोई भी क्षेत्र चाहे वह राजनीतिक, आर्थिक, सांस्कृतिक, खेल हो या फिर संगीत, नृत्य व कला का प्रदर्शन हर जगह देश की बेटियां ऐसा अद्भुत प्रदर्शन कर रही है जिसे दुनिया जानने को बेताब है।

3. यहां हम बात कर रहे हैं मेरठ की यहां दो बेटियों ने अपनी मां के लिए एक ऐसा ऐतिहासिक काम किया जो अब काफी चर्चित हो रहा है। 

प्रतीकात्मक तस्वीर

4. अपने पति की मृत्यु के बाद यूपी के मेरठ के जागृति विहार में रहने वाली एक महिला 15 वर्षों से तन्हां जिंदगी गुजार रही थी। 

यह भी पढ़ेंः DN Exclusive: पढ़ें, उन बेमेल शादियों के बारे में.. जो रही खूब चर्चित और सफल

5. पति की मौत के बाद उसके बेटे ने उसे घर से निकाल दिया था। जबकि उसकी दोनों लड़कियों की शादी हो गई थी। जब उसकी लड़कियों को यह पता चला कि उनकी मां की हालत दिन-प्रितदिन दयनीय हो रही है। तो उन्होंने अपनी मां का उजड़ा घर फिर से बसाने की सोची।

6. इन बेटियों ने मां की दोबारा शादी करने की ठानी और अपनी मां से भी बातचीत की। बेटियों की यह बात सुनकर हालांकि पहले मां थोड़ा हिचकिचाने लगी। 

7. जब बेटियों ने मां को जिंदगी जीने के ढंग के बारे में बताया तो वह तैयार हो गई। तब दोनों बेटियों ने सहारनपुर में अपने रिश्तेदार के जान-पहचान वाले व्यक्ति से मां की शादी करवा दी। 

सांकेतिक तस्वीर

8. दो बेटियों ने न सिर्फ मां का कन्यादान किया बल्कि मां का नया घर बसाकर उसके दिल का सुकून दिया। 

यह भी पढ़ेंः हैरान करने वाली खबर: मां का दूध नवजात बच्चे के लिए बना जहर..

9.ऐसा ही एक दूसरे मामले में जयपुर की संहिता अग्रवाल ने अपनी विधवा मां की शादी करवाकर एक नई मिसाल पेश की। 

10. संहिता ने अपनी 53 वर्षीय विधवा मां की शादी बांसवाड़ा में रहने वाले कृष्ण गोपाल से करवाई। उनकी मां एक सरकारी स्कूल में शिक्षिका है। उनके पति की मौत 13 मई 2016 में दिल का दौरा पड़ने से हुई थी। तब से ही वह अपने को अकेला महसूस कर रही थी। इससे निजात दिलाने के लिए इस बेटी ने सामाजिक ताने-बाने से  ऊपर उठकर मां का ब्याह रचा दिया।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)