Uttar Pradesh: यूपी कैबिनेट बैठक में कई अहम मुद्दों पर की गई चर्चा, पीएम आयुष्मान योजना से वंचित लोगों को मिलेगा लाभ

डीएन ब्यूरो

योगी सरकार की लोकभवन में हुई कैबिनेट बैठक में कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई। जिसमें आयुष्मान योजना का लाभ लेने से वंचित रह गये लोगों के लिए भी खास तैयारी की गई है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..


लखनऊः योगी सरकार की लोकभवन में हुई कैबिनेट बैठक में कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई। जिसमें आयुष्मान योजना का लाभ लेने से वंचित रह गये पात्र लोगों को मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत लाभ दिलाने की तैयारी है। इसकी शुरूआत सोनभद्र के उम्भा गांव से होगी। आपको बता दें की मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना में भी पीएम आयुष्मान योजना की तर्ज पर ही 5 लाख रुपए वार्षिक की फ्री चिकित्सा सुविधा का अधिकार लाभार्थी को देती है।

यह भी पढ़ें: भैंस के तबेले को लेकर हुआ खूनी संघर्ष, 15 लोग पहुंचे अस्पताल 

वहीं अब मुख्यमंत्री आयुष्मान योजना के लाभार्थी प्रदेश के सभी 13 सरकारी मेडिकल कॉलेजों समेत बीएचयू, दिल्ली स्थित एम्स कई बड़े सुपर स्पेशिएलिटी अस्पतालों में भी अपना इलाज करा सकेंगे। इसके साथ ही प्रदेश के मेडिकल कालेजों में खाली पड़े डाक्टरों के 542 पदों को भरने के लिये अब वेतन बढाने की भी तैयारी है। अब संविदा के तहत मेडिकल कॉलेज में तैनात प्रोफेसरों को 90 हजार की जगह पर 1.35. लाख, एसोसिएट प्रोफेसरों को 80 हजार रुपए की जगह पर 1.20 लाख और असिस्टेंट प्रोफेसरों को 60 हजार रुपए की जगह पर 90 हजार रुपए मासिक वेतन दिया जायेगा।

यह भी पढ़ेंः उत्तर प्रदेश एसटीएफ टीम ने सुंदर भाटी गैंग के कुख्यात अपराधी को किया गिरफ्तार, कई दिनों से चल रहा था फरार

साथ ही 2011 में हुई आर्थिक जनगणना के तहत बनाई गई बीपीएल सूची के लिए अधिकतम 24 हजार रुपए सालाना की शर्त को खत्म करते हुये 46 हजार रुपए ग्रामीण क्षेत्र में, जबकि शहरी क्षेत्र में 56 हजार रुपए करने की तैयारी है। कुल मिलाकर सरकार की इस कवायद को आयुष्मान योजना से छुट गये अधिक से अधिक लोगों को मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत जोड़कर अच्छी स्वास्थ्य सुविधा को लाभ दिलाने से जोड़कर देखा जा रहा है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार