विवेक तिवारी के एनकाउंटर से हर कोई हैरान, परिजनों की मांग- आरोपियों के खिलाफ हो सख्त कार्रवाई

डीएन संवाददाता

लखनऊ पुलिस द्वारा आईफोन कम्पनी में सेल्स मैनेजर विवेक तिवारी को गोली मारकर मौत की नींद सुलाने के मामले में जहां यूपी पुलिस की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में है वहीं इस घटना को लेकर तिवारी के परिजनों समेत हर आम और खास हैरान और परेशान है। डाइनामाइट न्यूज़ की इस एक्सक्लूसिव रिपोर्ट में पढ़ें, इस घटना पर कौन क्या बोला..

मृतक को कार के अंदर मारी गयी गोली
मृतक को कार के अंदर मारी गयी गोली

लखनऊ: गोमतीनगर विस्तार के मकदूमपुर पुलिस चौकी के पास सिपाही प्रशांत चौधरी द्वारा विवेक तिवारी को गोली मारकर मौत के नींद सुलाने के मामले से हर कोई हैरान और परेशान है। मृतक के परिजन भारी सदमे में है और घर पर मातम पसरा हुआ है। सीएम योगी से लेकर हर राजनेता और अफसर जहां इस घटना पर अफसोस जता रहे है, वहीं पुलिस की कार्यप्रणाली भी संदेह में आ गयी है।  

यह भी पढ़ेंः लखनऊ पुलिस ने किया आम आदमी का एनकाउंटर, सीएम योगी सख्त, जांच के आदेश 

डाइनामाइट न्यूज़ की इस रिपोर्ट में पढ़ें, इस घटना पर कौन क्या बोला.. 

मृतक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी का कहना है कि पुलिस को मेरे पति पर गोली मारने का कोई अधिकार नहीं था। गोली लगने के कारण वह बुरी तरह घायल हो गये थे और घायल होने के कारण बाद में उन्होंने दम तोड़ दिया। पुलिस की पूरी कार्यप्रणाली संदिग्ध है। सीएम योगी को यहां आना चाहिये और इस बारे में हमसे बात करनी चाहिये।   

यह भी पढ़ेंः महराजगंज: रंगदारी मांगने वाले बदमाशों और पुलिस के बीच फायरिंग, दो बदमाशों को लगी गोली, दो फरार

मृतक के साले विवेक शुक्ला ने कहा कि क्या वह आतंकवादी थे, जो पुलिस ने उन्हें गोली मार दी। हमने योगी आदित्यनाथ को हमने अपने प्रतिनिधित्व के लिये चुना है, वे इस मामले में शीघ्र कार्रवाई करें। हम मामले की सीबीआई जांच चाहते हैं।   

एडीजी आनंद कुमार ने कहा- विवेक मर्डर केस में हत्या का केस दर्ज किया गया है। आरोपी सिपाहियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। ऐसी घटना पर हमें अफसोस है। पुलिस आरोपियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करेंगी। 

यूपी के डिप्टी सीएम कैशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि मामले की जांच जारी है। दोषी पाये जाने पर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार