UP में BJP की 'कमल संदेश बाइक रैली' में यातायात नियमों की उड़ी धज्जियां, बिना हेलमेट दिखे कई कार्यकर्ता

डीएन ब्यूरो

उत्तर प्रदेश में शनिवार को बीजेपी ने 'कमल संदेश बाइक रैली' का प्रदेशभर में आयोजन कर शक्ति प्रदर्शन किया। इस दौरान हजारों की तादाद में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने ग्रुप में बाइक चलाकर अपने-अपने जिले में पार्टी की मजबूती का परिचय दिया। लेकिन कई जगहों पर यातायात नियमों की भी धज्जियां उड़ाई गई। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट


लखनऊः उत्तर प्रदेश में शनिवार को BJP ने प्रदेशभर में 'कमल संदेश बाइक रैली' का आयोजन किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी में तो वहीं उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने फूलपुर और उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने लखनऊ में बाइक रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान बीजेपी के छोटे-बड़े कार्यकर्ता हजारों की तादाद में सड़कों पर उतरे और बाइक में सवार होकर BJP की शक्ति का प्रदर्शन किया।          

यह भी पढ़ेंः फतेहपुरः कमल संदेश बाइक रैली के जरिये BJP कार्यकर्ताओं ने किया शक्ति प्रदर्शन..  

 

 

बाइक रैली में प्रदेशभर से बीजेपी कार्यकर्ता हजारों की तादाद में जुटे थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कार्यकर्ताओं को यातायात नियमों के पालन करने को लेकर दी गई हिदायत के बावजूद प्रदेश के विभिन्न जिलों में बाइक रैली में शामिल कार्यकर्ताओं ने जमकर यातायात नियमों की धज्जियां उड़ाई और बिना हेलमेट के ही सड़कों पर नजर आए। इस दौरान कार्यकर्ताओं की वजह से सड़क पर कई जगहों पर लोगों को जाम का भी सामना करना पड़ा जिस वजह से प्रदेश सरकार के प्रति जनता में नाराजगी भी नजर आई।       

यह भी पढ़ेंः राजस्थान विधानसभा चुनावः बौखलाई BJP..वसुंधरा के सामने चुनावी मैदान में यह प्रत्याशी भरेगा हुंकार  

 

 

यह भी पढ़ेंः PM मोदी को संसद में विशेष प्रस्ताव लाकर राम मंदिर बनाने का रास्ता करना चाहिये साफः बाबा रामदेव  

प्रदेश में राजधानी लखनऊ, वाराणसी, मेरठ, कासगंज, फतेहपुर, जौनपुर आदि जगहों पर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने शक्ति प्रदर्शन किया लेकिन इस दौरान कार्यकर्ता यातायात नियमों को भूल गये और बिला हेलमेट के ही बाइकों में सवार होकर सड़कों पर भारी तादाद में दिखे। इससे न सिर्फ आम जनता को आवागमन में परेशनी हुई बल्कि जब हेलमेट नहीं पहनने के बारे में बीजेपी कार्यकर्ताओं से पूछा गया तो उनका जवाब भी बड़ा निराला था। कार्यकर्ताओं का कहना था कि वो प्रदेश सीएम योगी आदित्यनाथ के स्वागत में व्यस्त थे इस वजह से वह हेलमेट को अपने बीजेपी कार्यालय में भी छोड़कर आये हैं। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार