कुशीनगर: इंटरनेशनल एयरपोर्ट को टेक्निकल टीम का झटका.. शुरू होने में देरी से चढ़ा सियारी पारा, सपा ने किया आर-पार की लड़ाई का ऐलान

डीएन ब्यूरो

कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को 19 जुलाई से शुरू होना था। यहां से लोगों को कई शहरों के लिए उड़ानें मिलनी लगती लेकिन टेक्निकल कमेटी ने एयरपोर्ट को उड़ान के लिए अभी अनफिट घोषित कर दिया है। जिसे लेकर समाजवादी पार्टी ने निशाना साधते हुए एयरपोर्ट शुरू होने में हो रही देरी को सरकार की साजिश बताया है। प्‍लेन यहां से कब टेकऑफ करेंगे यह तो वक्‍त बताएगा लेकिन प्रदेश में इसे लेकर सत्‍ताधारी और विपक्षियों में जोरदार तरीके से ठनने वाली है। पढ़े डाइनामइट न्‍यूज की विशेष कवरेज...

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

कुशीनगर: जिले के निर्माणाधीन इंटरनेशनल एयरपोर्ट से 19 जुलाई को उड़ाने शुरू होने वाली थी। विमानन मंत्रालय ने भी इसके लिए हामी भर दी थी लेकिन बीते शुक्रवार को टेक्निकल कमेटी ने आनन फानन में यहां जांच के बाद एयरपोर्ट को अभी अनफिट घोषित कर दिया है। जिसे लेकर सपा नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री ब्रह्माशंकर त्रिपाठी ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्‍होंने इसे कुशीनगर के विकास को अवरुद्ध करने का प्रयास बताते हुए लंबी लड़ाई का ऐलान कर दिया है। 

यह भी पढ़ें: हिंडन एयरपोर्ट से अयोध्या के लिए हवाई सेवा जल्द.. गोरखपुर व लखनऊ के लिए यहीं से मिलेगी फ्लाइट

सपा नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री ब्रह्माशंकर त्रिपाठी

उनका कहना है कि कुशीनगर एयरपोर्ट का विस्तारीकरण कर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए 585 एकड़ जमीन अधिग्रहित की गई। हजारों किसान प्रभावित हुए और सरकारी खजाने से मुआवजा दिया गया। बाउंड्री और हवाई पट्टी आदि  सब बनकर तैयार है। अचानक से टेक्निकल कमेटी ने जांच की और उड़ान के लिए अनफिट घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें: गोरखपुर को नए एयरपोर्ट और अंतरराष्‍ट्रीय बस अड्डे की जल्‍द मिलेगी सौगात

यह एक साजिश के तहत किया गया है। सपा की सरकार ने 500 करोड़ रुपये खर्च करके हवाई अड्डा बनाया था। सत्‍ता पक्ष कुशीनगर का विकास रोकना चाहता है। इसके खिलाफ जबरदस्त आंदोलन चलाया जाएगा। आवश्यकता पड़ी तो जेल भरो आंदोलन भी शुरू किया जाएगा। 

यह भी पढ़ें: कृष्ण जन्माष्टमी का तोहफा.. सीएम योगी ने गोरखपुर-दिल्ली के बीच उड़ाया एक और विमान

कांग्रेस नेता ने भी कसा तंज 

कांग्रेस विधान मंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू ने कहा कि सीएम की नजर गोरखपुर से आगे बढ़ती ही नहीं है। इसी कारण प्रदेश के अनेक हिस्सों में चल रहे विकास कार्य ठप हो गए हैं। कुशीनगर एयरपोर्ट को भी झंझटों में फंसाया जा रहा है। 

यह भी पढ़ें: गोरखपुर से कोलकाता और हैदराबाद की फ्लाइट के लिए टिकट बुकिंग शुरू.. जानें क्या है किराया

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार