A.P.J Abdul Kalam Birth Anniversary: एयरफोर्स में फेल होने बाद ऐसे बने मिसाइल मैन, जानें खास बातें

डीएन ब्यूरो

आज मिसाइल मैन यानि की एपीजे अब्दुल कलाम का आज जन्मदिन है। अब्दुल कलाम देश के महान वैज्ञानिकों में से एक थें। आज उनके जन्मदिन पर जानें उनसे जुड़ी कुछ बातें। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ विशेष..

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम
डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम

नई दिल्लीः आज भारत के मिसाइल मैन  का जन्मदिन है। भारत के मिसाइल मैन कहने जाने वाले एपीजे अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को तमिलनाडु के शहर रामेश्वरम में हुआ था। 

यह भी पढ़ेंः महराजगंज के जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय को मिली पाप की सजा, हुए सस्पेंड

उन्होनें अपना बचपन बहुत ही अभाव में बिताया है। अपने पिता की आर्थिक मदद करने के लिए वो अखबार बेचने का काम करते थें। पढ़ाई में अब्दुल कलाम बहुत ही अच्छे थें। अब्दुल कलाम का सपना इंडियन एयरफोर्स में जाने का था, पर एग्जाम में असफल होने के कारण वो एयरफोर्स में नहीं जा पाएं। फिर इसके बाद जो हुआ वो इतिहास बन गया है।

यह भी पढ़ेंः मुख्यमंत्री ने मनोज टिबड़ेवाल को लोक भवन में बुलाकर दिया था न्याय का भरोसा

 


जब वो इंडियन एयरफोर्स में जाने से नाकाम रहे तो उन्होंने 1962 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानी इसरो में नौकरी कर ली। उनके नेतृत्व में ही भारत ने अपना पहला स्वदेशी उपग्रह प्रक्षेपण यान यानी पीएसएवी -3 बनाया। 1980 में इसी यान से पहला उपग्रह रोहिणी अंतरिक्ष में स्थापित किया गया। अब्दुल कलाम की अगुवाई में जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइल, टैंकभेदी मिसाइल और रिएंट्री एक्सपेरिमेंट लॉन्च वेहिकल (रेक्स) पर खूब काम हुआ। पृथ्वी, त्रिशूल, आकाश, नाग नाम के मिसाइलों का निर्माण हुआ।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार