जामिया हिंसा मामला: 10 लोग गिरफ्तार, कोई भी छात्र शामिल नहीं

डीएन ब्यूरो

दिल्ली पुलिस ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ जामिया मीलिया इस्लामिया के आस-पास के इलाकों में हुई आगजनी एवं पथराव समेत हिंसक घटनाओं के सिलसिले में 10 लोगों को गिरफ्तार किया है।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ जामिया मीलिया इस्लामिया के आस-पास के इलाकों में हुई आगजनी एवं पथराव समेत हिंसक घटनाओं के सिलसिले में 10 लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार लोगों में कोई भी जामिया विवि से जुड़ा या छात्र नहीं हैं। उन्होंने बताया कि सोमवार की रात में गिरफ्तार सभी लोग आपराधिक पृष्ठभूमि के हैं। उधर केंद्रीय गृहमंत्रालय के सूत्र के अनुसार जामिया में हुए प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने गोली नहीं चलायी थी।

उल्लेखनीय है कि जामिया विवि के पास सीएए के विरोध में आंदोलन के दौरान रविवार को प्रदर्शनकारी हिंसक हो गये थे तथा कुछ बसों में आग लगा दी थी। हिंसक लोगों ने डीटीसी की चार बसों, 10 पुलिस गश्ती मोटरसाईकिलों तथा करीब 100 निजी वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया। पुलिस ने इस संबंध में दो प्राथमिकियां दर्ज की है।

हिंसा और पथराव के कारण जिले के कुछ वरीय अधिकारियों समेत 30 पुलिसकर्मी घायल हो गये। पुलिस की ओर से की गयी लाठीचार्ज में 200 से अधिक लोग घायल हैं जिनमें जामिया के कई छात्र भी शामिल हैं। (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार