कोरोना वायरस की जंग: प्रमुख सचिव रजनीश दूबे से नहीं संभल पा रहा है चिकित्सा शिक्षा विभाग?

डीएन संवाददाता

हाल के दिनों में कोरोना वायरस के खिलाफ चल रही सरकारी जंग में स्वास्थ्य के मोर्चे पर कई चिकित्सा अधिकारी बुरी तरह फेल हुए हैं। इसके बाद कईयों की छुट्टी कर दी गयी। डाइनामाइट न्यूज़ एक्सक्लूसिव:

आईएएस रजनीश दूबे (फाइल फोटो)
आईएएस रजनीश दूबे (फाइल फोटो)

लखनऊ: जिस तरह से आगरा के सरोजनी नायडू मेडिकल कालेज के प्रिंसिपल जीके अनेजा की छुट्टी हुई है, उससे माना जा रहा है कि यूपी के 1990 बैच के आईएएस अफसर और वर्तमान में चिकित्सा शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव रजनीश दूबे से शीर्ष सत्ता प्रतिष्ठान खुश नहीं है।

कहा जा रहा है कि अनेजा रजनीश दूबे के बेहद खास हैं, ऐसे में इनकी छुट्टी विभाग पर से दूबे की कमजोर होती पकड़ की तरफ इशारा कर रही है। 

कोरोना वायरस के खिलाफ चलाये जा रहे सरकारी अभियान में अपने कर्तव्यों का निर्वहन न करने के चलते अनेजा के अलावा आगरा मेडिकल कालेज के सीएमएस एसपी जैन से लेकर मथुरा और बुलंदशहर के सीएमओ भी निपटा दिये गये लेकिन सबसे अधिक चर्चा हुई अनेजा के छुट्टी की। 

बताया जा रहा है कि अनेजा खुद आगरा मेडिकल कालेज के प्रिसिंपल थे तो इनकी पत्नी आगरा के बगल में ही फिरोजाबाद मेडिकल कालेज में बतौर प्रिंसिपल तैनात हैं।

बतौर प्रमुख सचिव दूबे के पास ही कोरोना वायरस के प्रकोप को लेकर तमाम महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां हैं और इन्हीं के क्रियान्वयन में तरह-तरह की शिकायतें सामने आ रही हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार