अमेरिका ने किया दक्षिण कोरिया का समर्थन, ‘एंटी पायरेसी यूनिट’ के फैसले का किया स्वागत

डीएन ब्यूरो

अमेरिका ने कहा है कि वह ईरान के तट से सटे हरमूज जलडमरूमध्य में समुद्री लुटेरों के खतरे से निपटने के लिए ‘एंटी पायरेसी यूनिट’ भेजने के दक्षिण कोरिया के फैसले का समर्थन करता है।

अमेरिका ने किया दक्षिण कोरिया का समर्थन
अमेरिका ने किया दक्षिण कोरिया का समर्थन

मॉस्को: अमेरिका ने कहा है कि वह ईरान के तट से सटे हरमूज जलडमरूमध्य में समुद्री लुटेरों के खतरे से निपटने के लिए ‘एंटी पायरेसी यूनिट’ भेजने के दक्षिण कोरिया के फैसले का समर्थन करता है।

यह भी पढ़ें: International News-पोम्पियो ने कहा- बर्लिन सम्मेलन से लीबिया में हथियारों के प्रवाह में कमी की उम्मीद

प्रवक्ता ने बुधवार को बताया कि अमेरिका ने दक्षिण कोरियाई समाचार एजेंसी योनहैप से कहा है कि वह हरमूज जलडमरूमध्य में एंटी पायरेसी चेओंघाई यूनिट तैनात करने के दक्षिण कोरिया के फैसले को समर्थन देता है। अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता ने कहा अमेरिका ने अपने चेओंघाई एंटी पायरेसी यूनिट के मिशन का विस्तार करने के दक्षिण कोरिया के फैसले का स्वागत और सराहना की है।

इससे पहले दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रालय ने मंगलवार को घोषणा की थी कि वह नागरिक जहाजों की सुरक्षा के लिए अदन की खाड़ी से हरमूज जलडमरूमध्य के बीच 300 सैन्यकर्मियों से युक्त यूनिट को फिर से तैनात करेगा।

दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रालय ने घोषणा की कि एंटी पायरेसी यूनिट स्वतंत्र रूप से काम करेगी और क्षेत्र में अमेरिकी नेतृत्व वाले गठबंधन का हिस्सा नहीं है।

यह भी पढ़ें: International News- ट्रम्प ने खामेनई को संभलकर बोलने की दी चेतावनी

ईरानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अब्बास मौसावी ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा था कि हरमूज जलडमरूमध्य में दक्षिण कोरियाई सैनिकों की संभावित तैनाती ईरान को अस्वीकार्य है और इससे दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों में खटास पैदा हो सकती है। (वार्ता) 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार