फतेहपुर: सड़क हादसे में युवक की मौत का सदमा..दादी की मौत, मां को हॉर्ट अटैक

डीएन संवाददाता

सड़क हादसे में जवान लड़के की मौत का सदमा उसके परिजन सहन नहीं कर सके, जिस कारण एक और दर्दनाक कहानी सामने आयी। युवकों की मौत के बाद उसकी दादी की भी मौत हो गयी और मां को हॉर्ट अटैक पड़ गया..डाइनामाइट न्यूज़ की स्पेशल रिपोर्ट

फाइल फोटो
फाइल फोटो

फतेहपुर: बिंदकी क्षेत्र में ज्वाला जी मंदिर के पास एक सड़क हादसे में प्रदीप की मौत से उसके परिवार पर पहले ही गमों का पहाड़ टूटा हुआ था। गम इतना गहरा था कि उसके परिजन उसकी मौत को सहन तक न कर सके। पोते की मौत के बाद बुजुर्ग दादी ने खाना-पीना छोड़ दिया, जिससे उसकी मौत हो गयी। बेटे के बाद सास की मौत के दोहरे सदमे के कारण युवक की मां को भी हॉर्ट अटैक आ गया। सदमा लगने से गंभीर स्थिति में पहुंच चुकी प्रदीप की मां भी अब अस्पताल में जीवन और मौत से जूझ रही है। पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है। 

यह भी पढ़ें: फतेहपुर मे आयी बाइक चोरों की शामत.. 19 मोटरसाइकिल के साथ 5 शातिर चोर गिरफ्तार 

18 साल का प्रदीप गत सप्ताह शुक्रवार को एक सड़क हादसे में बुरी तरह घायल हो गया था, इलाज के लिये अस्पताल पहुंचाने से पहले ही प्रदीप काल का ग्रास बन चुका था। घर का चिराग बुझने से पूरे परिवार पर गमों का पहाड़ टूट पड़ा। पोते की मौत से 70 वर्षीय रामकली पत्नी राजाराम का खाना-पीना छूट चुका था। पोते के वियोग में बुजुर्ग रामकली की मंगलवार सुबह मौत हो गयी।

गांव में जैसे ही रामकली की मौत की खबर फैली पूरे गांव में सन्नाटा पसर गया। लोग जब अंतिम संस्कार के लिये रामकली के शव के लिये अर्थी सजा रहे थे तभी पहले से ही गमगीन प्रदीप की मां शिवप्यारी (40) पत्नी मुन्ना कुशवाहा इस दोहरे सदमे को नहीं झेल पायी और वह मौके पर हार्ट अटैक के कारण मूर्छित होकर गिर पड़ी। पूरे गांव में फिर कोहराम मच गया।

यह भी पढ़ें: फतेहपुर: गंगा नदी के उफान से कई गांवों में बाढ़ का खतरा, फसल बर्बाद होने से किसान ने दी जान 

आनन-फानन में लोग शिवप्यारी को सरकारी अस्पताल बिन्दकी ले गये। जहां डॉक्टरों ने गंभीर हालत को देखते हुए शिवप्यारी को कानपुर के लिये रेफर कर दिया। कानपुर अस्पताल में शिवप्यारी की हालत गंभीर बतायी जा रही है। हमेशा के लिये संसार से जा चुके प्रदीप के अलावा शिवप्यारी के दो छोटे बच्चों व अन्य परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। पूरे क्षेत्र में मातम पसरा हुआ है। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार