फतेहपुर: अतिक्रमण हटाने ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंची जेसीबी मशीनें, आंखों के सामने ही टूटा आशियाना

डीएन संवाददाता

प्रशासन के आदेश के अनुसार तय समय सीमा खत्म होने बाद फतेहपुर में जेसीबी मशीनों की गर्जना फिर शुरू हो गयी है। इस बार ग्रामीण क्षेत्रों में अतिक्रमण ढहाये जा रहे है। लोग अपनी आंखों के सामने ही अपना आशियाना और प्रतिष्ठान टूटते हुए देखने को मजबूर है। डाइनामाइट न्यूज़ की ग्राउंड जीरो से एक्सक्लूसिव रिपोर्ट


फतेहपुर: शहर के बाद अतिक्रमण विरोधी अभियान अब ग्रमीण क्षेत्रों की तरफ रूख कर चुका है। प्रशासन ने अतिक्रमण चिन्हित करने के बाद लोगों से खुद ही अपने अतिक्रमण हटाने को कहा था, जो लोग अपने अतिक्रमण खुद न हटा सके अब जेसीबी मशीने उन्हें तोड़ने में जुट गयी है। प्रशासन के अतिक्रमण अभियान को लेकर लोग फिर एक बार सहम से गये है। विरोध के बाद भी कहीं से कोई रहम मिलती नहीं दिख रही है। 

यह भी पढ़ें: फतेहपुर: चार दिन के बाद अतिक्रमण ढ़हाने फिर सड़कों पर निकला बुलडोजर, लोगों में हड़कंप 

 

 

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में शुक्रवार को लंबे अरसे के बाद जेसीबी मशीनों की गर्जना सुनने के मिली। खागा तहसील और जहानाबाद क्षेत्र में पुलिस और राजस्व विभाग की मौजूदगी में अतिक्रमण हटाये गये। इस दौरान लोगों को अतिक्रमण हटाने आयी टीम के सामने उनके घर और प्रतिष्ठानों को न तोड़ने के लिये गिड़गिड़ाते हुए भी देखा गया, लेकिन किसी को कोई राहत नहीं मिली। खागा कस्बे में सड़क किनारे कई अतिक्रमण तोड़े गये।

यह भी पढ़ें: फतेहपुर: डीएम ने किया गांवों का औचक निरीक्षण, अवैध कब्जे हटाने के निर्देश, ग्रामीणों में हड़कंप 

 

 

यह भी पढ़ें: फतेहपुर डीएम के तेवर और कड़े.. शहर के बाद अब गांव-कस्बों से भी हटेंगे अतिक्रमण 

जहानाबाद में अतिक्रमण हटाने के दौरान पुलिस और जनता के बीच कई जगहों पर झड़पें औऱ तीखी बहस भी देखने को मिली। जहानाबाद में एक घर के सामने वाले हिस्से को पूरी तरह ढ़हाया गया। इस दौरान घर वालों ने टीम से कई तीखी बहस की लेकिन किसी की कुछ न सुनी गयी। लोग घर में ही रहे और देखते-देखते उनकी आंखों के सामने ही उनका आशियाना तोड़ दिया गया। कई व्यापारिक प्रतिष्ठानों का अतिक्रमण भी हटाया गया। 
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …