फर्जी IPS का चेहरा हुआ बेनकाब..अब तक कईयों को लगाया चूना, कर रहा था ये प्लानिंग

डीएन ब्यूरो

क्राइम ब्रांच इटावा व थाना सिविल लाइन पुलिस ने एक अभियुक्त को गिरफ्तार किया है जो विभिन्न जनपदों में खुद को IPS बताकर रौब झाड़ता था और वह अब तक आम जनता के चेहरे पर धूल झोंक रहा था। डाइनामाइट न्यूज की रिपोर्ट में पढ़ें फर्जी IPS का चेहरा कैसे हुआ उजागर

फर्जी आईपीएस अधिकारी
फर्जी आईपीएस अधिकारी

इटावा: आईपीएस बनकर आम जनता के बीच रौब झाड़ने वाला और बेरोजगार युवाओं को नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला एक ऐसे शातिर को पुलिस ने दबोच है जो शातिराना तरीके से सबकी आंखों में धूल झोंक रहा था। क्राइम ब्रांच इटावा व थाना सिविल लाइन पुलिस द्वारा इस अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया है जो विभिन्न जनपदों में स्वयं को 2017 बैच के आईपीएस अधिकारी बताकर ठगी किया करता था।    

यह भी पढ़ेंः लालू परिवार पर एक और बड़ा संकट, तेज प्रताप लेने जा रहे हैं पत्नी से तलाक   

 

 

फोटो सैशन के दौरान फर्जी IPS (फाइल फोटो)

 

यह भी पढ़ेंः यूपी का गालीबाज एसपी.. कुर्सी पर बैठते ही भूले पद की गरिमा 

फर्जी आईपीएस के कब्जे से पुलिस ने कई वर्दी, बैज के अलावा नाम बदले हुए आधार कार्ड भी बरामद किए गए हैं। उसने पुलिस विभाग में नौकरी बताकर दो-दो शादियां भी कीं। प्राप्त जानकारी के अनुसार अभियुक्त द्वारा 50-60 लाख रुपए की ठगी का मामला सामने आया है। 

गिरफ्तार अभियुक्त का नाम जोगेन्द्र सिंह है जो अपना नाम 2017 बैच का IPS अमित यादव बताता था। इसके द्वारा यूनिफार्म में फोटोज भी खिंचवाए गए हैं। कुछ फोटोज सॉफ्टवेयर से भी कूटरचित कर बनवाया गया है। अभियुक्त द्वारा किए गए उक्त कृत  के संबंध में थाना सिविल लाइन परअभियोग पंजीकृत कर आवश्यक कार्रवाई कर रही है।   

यह भी पढ़ेंः खुशखबरीः खेत में मिला भरपूर तेल भंडार..खुदाई के दौरान ONGC की टीम रह गई दंग 

गुरुवार को वाहन चेकिंग के दौरान यूपी-75 एबी 2767 आर्टिका कार को पुलिस के अफसरों ने रोका तो आईपीएस अफसर का रौब दिखाने वाले जोगेंद्र यादव उर्फ अमित यादव उन पर भड़क गया  और कहा कि तुम लोग वर्दी को नहीं पहचानते हो। मैं आईपीएस अधिकारी हूं। पुलिस को शक हुआ तो फैरन उसे हिरासत में ले लिया। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार