यूपी और उत्तराखंड के पूर्व सीएम नारायण दत्त तिवारी का दिल्ली में निधन

डीएन ब्यूरो

उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेसी नेता नारायण तिवारी का 93 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि वह काफी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। डाइनामाइट न्यूज़ की स्पेशल रिपोर्ट

नारायण दत्त तिवारी (फाइल फोटो)
नारायण दत्त तिवारी (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नारायण दत्त तिवारी का वीरवार को दिल्ली स्थित मैक्स अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया है। वह 93 वर्ष के थे। नारायण दत्त तिवारी काफी लंब समय से बीमार चल रहे थे।  उनके निधन की खबर के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री सीएम योगी समेत पूरी कैबिनेट ने दुख प्रकट किया है। साथ ही केंद्र में सत्ता पर काबिज भाजपा व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दुख प्रकट किया है।   

यह भी पढ़ेंः जानिये क्या हुआ, जब SEX स्कैंडल में फंसे थे एनडी तिवारी.. हुआ था DNA टेस्ट  

तिवारी कांग्रेस के दिग्गज नेताओं में जाने जाते हैं। एनडी तिवारी के निधन से कांग्रेसी नेताओं में भी शोक की लहर दौड़ पड़ी है। केंद्र में नेता प्रतिपक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत तमाम कांग्रेसी नेताओं ने इस पर दुख प्रकट हुए कांग्रेस के लिये इसे बड़ी क्षति बताया है।

 

अस्पताल में एनडी तिवारी (फाइल फोटो)

 

जन्मदिन पर हुआ निधन

 उनके निधन पर जो चौंकाने वाली बात सामने आई है वह यह है कि आज ही के दिन यानी वीरवार को ही उनका जन्मदिन था। उनके निधन से उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश समेत देश में मातम का माहौल है। तिवारी का सभी राजनीतिक दलों के नेता काफी सम्मान करते थे।     

यह भी पढ़ेंः जानिये, UP और UK के पूर्व CM एनडी तिवारी के बारे में दस बड़ी बातें

 

दिल्ली के मैक्स अस्पताल में हुआ निधन (फाइल फोटो)

 

उनकी लगातार बिगड़ रही तबितयत को देखते हुए उन्हें दिल्ली के मैक्स अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। यहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। इससे पहले भी उन्हें पिछले साल एक स्ट्रोक की वजह से अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।        

यह भी पढ़ेंः RSS प्रमुख मोहन भागवत का राम राग, मंदिर निर्माण को लेकर बोली ये 5 बड़ी बातें

 

 

सीएम योगी आदित्यनाथ व एनडी तिवारी (फाइल फोटो)

 

उनके निधन की खबर से राजनीतिक जगत में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। इस खबर के बाद से ही ट्विटर पर नेताओं का प्रतिक्रियाएं आनी शुरू हो गई है।  इससे पहले उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्वीट किया था कि उन्होंने तिवारी के बेटे रोहित शेखर से बात की थी और उनका हालचाल जाना था।    

यह भी पढ़ेंः #MeToo का पहला कोर्ट केस.. जानिये, एमजे अकबर के मामले में आज क्या हुआ अदालत में

 

राज्य आंदोलनकारियों से रो पड़े थे तिवारी (फाइल फोटो)

 

गौरतलब है कि नारायण दत्त तिवारी तीन बार उत्तर प्रदेश और एक उत्तराखंड के भी मुख्यमंत्री रह चुके हैं।  उनके निधन पर पूर्व सीएम हरीश रावत समेत कई नेताओं ने दुख जताया है।एनडी तिवारी 93 साल के थे और बीते एक साल से बीमार चल रहे थे। एनडी तिवारी केंद्र में वित्त और विदेश मंत्री भी रह चुके हैं। वह आंध्र प्रदेश के राज्यपाल भी रह चुके हैं। कांग्रेस हो या फिर बीजेपी सभी पार्टियां उनका सम्मान करती थी। उनके निधन की खबर से वरिष्ठ राजनेता गमगीन हो गये हैं।

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार