अच्छी खबर: जुआरियों की जागेगी इस दिवाली किस्मत, जुआ खेलने से होगा फायदा

डीएन ब्यूरो

दीपों के पर्व दिवाली पर जुआ खेलने की परम्परा सदियों से चली आ रही है और इस त्यौहार पर लोग जुआ शगुन के रूप में खेलते हैं। अगर आप जुआरी हैं तो ये खबर आपके काम की है। हालांकि यह सुनने में थोड़ा अजीब जरूर लग रहा है लेकिन यह ऐतिहासिक तथ्य है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें दिवाली पर किसलिये खेला जाता है जुआ

दिवाली पर जुआ खेलना माना गया है शगुन
दिवाली पर जुआ खेलना माना गया है शगुन

पटना: दीपों के पर्व दीपावली पर जुआ खेलने की परम्परा सदियों से चली आ रही है और इस त्योहार पर लोग जुआ शगुन के रूप में खेलते हैं। 

 

हिन्दू पौराणिक कथाओं के अनुसार, माना जाता है कि दीवाली के दिन जुआ खेलना शुभ होता है। 

यह भी पढ़ें: नरक चतुर्दशी यानि छोटी दिवाली के दिन होती है यमराज की पूजा, जाने क्यों

माना जाता है कि दीवाली की रात माता पार्वती ने भगवान शिव के साथ पूरी रात चौसर खेला था। माता पार्वती ने कहा था कि दीवाली की रात ताश खेलने वाले के घर असीम सुख समृद्धि आएगी। 

(दिवाली विशेष कॉलम में डाइनामाइट न्यूज़ आपके लिए ला रहा है हर दिन दिवाली की नयी खबरें.. दिवाली से जुड़ी खबरों के लिए इस लिंक को क्लिक करें:https://hindi.dynamitenews.com/tag/Diwali-Special )

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार