दुन‍ियाभर में आज क्र‍िसमस की धूम, जानें सीक्रेट सैंटा की पूरी कहानी

डीएन ब्यूरो

क्रिसमस ईसाई धर्म का सबसे बड़ा त्योहार है। दुनियाभर में हर साल 25 दिसंबर क्रिसमस डे के रूप में मनाया जाता है । डाइनामाइट न्यूज़ की इस रिपोर्ट में पढ़ें सीक्रेट सैंटा की पूरी कहानी....

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: भारत समेत दुनिया भर में क्रिसमस की धूम है। क्रिसमस ईसाई धर्म का सबसे बड़ा त्योहार है। दुनियाभर में हर साल 25 दिसंबर क्रिसमस डे के रूप में मनाया जाता है । प्यार और पवित्रता का संदेश देने वाला ये त्योहार सबसे पहले रोम में 336 ईस्वी में मनाया गया था।

क्रिसमस जीसस क्रिस्ट के जन्म की खुशी में मनाया जाता है। जीसस क्रिस्ट को भगवान का बेटा कहा जाता है।  क्रिसमस का नाम भी क्रिस्ट से पड़ा है। कहा जाता है कि 336 ई.पूर्व में रोम के पहले ईसाई सम्राट के दौर में 25 दिसंबर के दिन सबसे पहले क्रिसमस मनाया गया, जिसके कुछ वर्षों बाद पोप जुलियस ने ऑफिशियली जीसस क्राइस्‍ट का जन्मदिवस 25 दिसंबर के दिन मनाने का ऐलान कर दिया। 

 

ईसाई धर्म के  अलावा अन्य धर्म के लोग भी पूरे उत्साह के साथ क्रिसमस का जश्न मनाते हैं। इस पर्व पर लोग रंग-बिरंगी लाइटों, डेकोरेटिव आइटम्स से अपने घरों को सजाते हैं और क्रिश्चियन लोग खास तौर पर क्रिसमस ट्री को सजाते हैं।













संबंधित समाचार