छत्तीसगढ़ चुनावः आखिरी दौर का मतदान सम्पन्न.. 5 बजे तक 64.8 फीसदी मतदान

डीएन ब्यूरो

छत्तीसगढ़ में दूसरे चरण की 72 विधानसभा सीटों के लिये मतदान सम्पन्न हो गया है। शाम पांच बजे तक 64.8 फीसदी मतदान दर्ज किया गया है। कई मतदान केंद्रों में EVM में आई खराबी ने भी मतदाताओं की परेशनी बढ़ा दी थी। EVM को लेकर कांग्रेस ने चुनाव आयोग का रुख किया है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट

मतदान केंद्र में वोट के लिये जुटे मतदाता
मतदान केंद्र में वोट के लिये जुटे मतदाता

रायपुरः छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में सोमवार को राज्य के 19 जिलों में विधानसभा की 72 सीटों के लिये मतदान जारी है। मतदान सुबह आठ बजे से शुरू हुआ जो शाम 5 बजे तक चला। यहां अब दूसरे चरण का मतदान संपन्न हो गया है। शाम पांच बजे तक 64.8 फीसदी मतदान दर्ज किया गया है। इन 72 विधानसभा सीटों में एक सीट ऐसी भी है जिस पर खुद राज्य के मुख्यमंत्री रमन सिंह की भी नजर है। ये सीट मरवाही है इस सीट को जोगी का गढ़ भी कहा जाता है। 

     

 

 

यह भी पढ़ेंः छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 : दूसरे फेज की 72 सीटों पर वोटिंग जारी         

यह सीट हाईप्रोफाइल सीट है जहां पिछले 18 सालों से इस सीट पर जोगी परिवार का कब्जा है। इस बार खुद अजित जोगी इस से चुनाव मैदान में कूदे हैं। बता दें कि वर्तमान में अमित जोगी इस सीट से मौजूदा विधायक है। लेकिन अजित जोगी ने चुनावी पारी फिर से शुरू करने के लिये अपनी इस पारंपरिक सीट को ही चुना है।    

यह भी पढ़ेंः मध्य प्रदेश में जब बसंती ने वोटरों से पूछा..आप BJP को वोट देंगे कि नहीं तो मिला करारा जवाब 

 

 

 

दूसरे चरण में छत्तीसगढ़ सरकार के 9 मंत्री भी चुनावी मैदान में उतरे हैं। इन नौ मंत्रियों, स्पीकर और छत्तीसगढ़ के बीजेपी और कांग्रेस अध्यक्ष की किस्मत आज ईवीएम में बंद होने वाली हैं। बता दें राज्य में पहले चरण में हुए 18 विधानसभा सीटों पर कुल 76.28 प्रतिशत वोटिंग हुई थी।     

 

 

 

वहीं दूसरे चरण में कई मतदान केंद्रों में EVM में आईं खराबी की वजह से मतदान प्रभावित भी हुआ था। ईवीएम की खराबी की वजह से रायपुर के 132 पोलिंग बूथ पर सुबह साढे़ आठ बजे तक वोटिंग शुरू नहीं हो पाई थी, जिसे बाद में ठीक किया गया। यहीं नहीं कई मतदान केंद्रों पर पर ईवीएम में आईं खराबी की वजह से वोटिंग में देरी हुई थी। महासमुंद में वोटिंग शुरू से पहले ही ईवीएम खराब होने की भी शिकायत मिली। लोहरगांव में मतदान केंद्र-90 में EVM में तकनीकी गड़बड़ी की भी शिकायत आई जिससे मतदाताओं को खासी परेशनी हुई।  

यह भी पढ़ेंः छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावः इन मतदान केंद्रों में EVM में आई खराबी..वोटरों की लगी लंबी लाइन 

  

 

यह भी पढ़ेंः अमेरिकाः शिकागो शहर के अस्पताल में गोलीबारी.. हमलावर समेत दो की मौत 

छत्तीसगढ़ में इस तरह मतदान के दौरान EVM में आई खराबी की वजह से कांग्रेस ने चुनाव आयोग के पास इसकी शिकायत की है। पीएल पुनिया के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं का एक दल दिल्ली में चुनाव आयोग के कार्यालय में पहुंचा है। यहां कांग्रेसी नेताओं ने ईवीएम टेंपरिंग का आरोप लगाया है। छत्तीसगढ़ कांग्रेस के अध्यक्ष भूपेश बघेल का भी आरोप है कि जिन बूथों में कांग्रेस मजबूत है वहीं पर ईवीएम में गड़बड़ी आ रही हैं। इन मतदान केंद्रों पर जानबूझकर मतदाताओं को भ्रमित करने की कोशिश की जा रही है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार