डाइनामाइट न्यूज़ की खबर का बंपर असर,नाबालिग लड़कियों को मुम्बई में बेचने वालों को पुलिस ने भेजा सलाखों के पीछे

डीएन ब्यूरो

लड़कियों को शादी का लालच देकर मुंबई में बेच दिया था। जिसके बाद लड़कियां और उनके परिवार वाले न्याय के लिए पुलिस के चक्कर काट रहे थें। जब उन्होनें डाइनामाइट न्यूज़ को इस बारे में बताया तो डाइनामाइट न्यूज़ ने इस खबर को लगातार प्रकाशित किया। जिसके बाद अब आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..

पुलिस के गिरफ्तार आरोपी
पुलिस के गिरफ्तार आरोपी

थाना कोल्हुई(महराजगंज): कोल्हुई थाना क्षेत्र के बेलासपुर गांव से 30 मार्च को गांव के ही दो लड़कों यासीन और नदीम और तीसरा विशाल जो अन्य गांव ने अपने ही गांव की दो नाबालिग बच्चियों को शादी का लालच देकर मुंबई में बेचने की कोशिश की थी। किसी तरह वहां से भाग कर अपने परिवार के पास वापस आई लड़कियों को काफी समय तक न्याय नहीं मिला था। जिस बारे में डाइनामाइट न्यूज़ ने लगातार इसपर प्रकाश डाला था। तरह -तरह के सवालों के घेरे में तीन महीने से आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर थे। जब पीड़ित लड़कियों ने डाइनामाइट न्यूज़ पर भरोसा जताते हुए डाइनामाइट को अपनी आपबीती सुनाई तो डाइनामाइट न्यूज़ ने मामले को प्राथमिकता से चलाया और डाइनामाइट न्यूज़ पर खबर लगने के चार दिन बाद कोल्हुई पुलिस बैकफुट पर आ गई और आज आरोपी सलाखों के पीछे हैं।

मुंबई में बेची गई बच्चियों की पिछली कहानी:
बेलासपुर गांव के दो युवक और एक दुसरे गांव के युवक ने मिल कर दो लड़कियों को शादी का झांसा देकर मुंबई बेच दिया था। बच्चियों ने किसी तरह ढाई महीने बिताएं और तब जाकर बीते कुछ दिनों पहले लखनऊ रेलवे स्टेशन पर अपने परिजनों से मिलीं। रोते हुए दोनों ने आप बीती सुनाई। उसके बाद लड़कियां और उनका परिवार न्याय के लिए पुलिस स्टेशन के लगातार चक्कर काट रहा था।  हालांकि कोल्हुई पुलिस एक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।  

यह भी पढ़ें: DN Exclusive: नाबालिग़ लड़कियों को बेचा मुंबई, किसी तरह बचकर पहुँची एसपी के पास

लड़की के परिजन एसपी के पास चार बार आ चुके थे।एस पी रोहित सिंह सजवान ने मामला  संज्ञान में लिया और कोल्हुई पुलिस को फटकार लगाई। इसके बाद पुलिस ने कॉल डिटेल के सहारे दोनों नाबालिग बच्चियों का लोकेशन महाराष्ट्र ट्रेस किया। देवीपाटन मंडल पुलिस ने प्रकरण से जुडे़ कुछ लोगों के परिजनों को थाने पर बैठाया। इस पर शुक्रवार को नाबालिग लड़कियों को अगवा करने वाले शातिर दोनों को जो उक्त गांव के ही हैं और तीसरा दूसरे किसी गांव का है।

लड़कियों के परिजनों ने उन तीनों के ऊपर तहरीर देकर कोल्हुई थाने में मुकदमा दर्ज करा दिया है और एक को जेल भी भेजा जा चुका है। मुम्बई से दोनों लड़कियां किसी यात्री के सहारे झांसी और झांसी से लखनऊ रेलवे स्टेशन पर रविवार सुबह पहुंचीं। पहले से मौजूद परिजन बेटियों से लिपटकर रोने लगे। परिजनों का कहना है कि लड़कियां सहमी हुई हैं।

यह भी पढ़ें: DN Exclusive: शादी के झांसे में मुंबई पहुंची लड़कियों को नहीं मिला इंसाफ, पुलिस के रवैये पर उठे सवाल

दो नाबालिग लड़कियों के गायब होने के मामले में कोल्हुई पुलिस ने पास्को सहित अन्य गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर तो लिया था। कुछ दिनों पहले यासीन नाम के एक लड़के को कोल्हुई पुलिस ने जेल भेज दिया था। आज जाकर कोल्हुई पुलिस ने मामले के दोनों आरोपियों नदीम थाना कोल्हुई और विशाल जो थाना बृजमनगंज के मिश्रवलिया गांव का निवासी है। आज सुबह कोल्हुई पुलिस ने दोनों को मुखबिर की सूचना पर ललाइन पैसिया के पास दबोच लिया।दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर धारा संख्या-363,366,120B आईपीसी 16/17 पाक्सो अधिनियम के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार