बड़ी खबर: कोरोना वायरस के कहर ने महराजगंज जिले को भी लिया अपनी चपेट में, 6 मरीज मिलने से मचा हड़कंप

डीएन संवाददाता

डाइनामाइट न्यूज़ पर इस समय एक बड़ी खबर सामने आ रही है। महराजगंज जिले में कोरोना के 6 मरीज मिले हैं। इन सभी को विशेष आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। पूरी खबर:


महराजगंज: कई दिनों से यह आशंका जतायी जा रही थी कि दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी मरकज में शामिल लोग जहां-जहां गये होंगे वहां पर कोरोना पॉजिटिव लोग मिल सकते हैं।

तीन दिन पहले डाइनामाइट न्यूज़ पर इस बात का खुलासा हुआ था कि नेपाल सीमा से सटे महराजगंज जिले के कोल्हुई व पुरंदरपुर थाना क्षेत्र के करीब दो दर्जन लोग दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी मरकज में शामिल होने के बाद जिले में आये हैं। 

डाइनामाइट न्यूज़ संवाददाता के मुताबिक महराजगंज जिले के कोल्हुई थाना क्षेत्र के कम्हरिया बुजुर्ग, सोनपिपरी खुर्द, एकसड़वा गांव, बड़हरा इंद्रदत्त तथा पुरंदरपुर थाना क्षेत्र के विशुनपुर फुलवरिया, विशुनपुर कुर्सियां निवासी 21 लोग दिल्ली के मरकज में शामिल हुए थे। बीआरडी मेडिकल कालेज में हुई जांच के बाद छह लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।इसके बाद चारों ओर चिंता के बादल और गहरा गये हैं कि ये जिन-जिन लोगों के संपर्क में आये होंगे उनमें भी कहीं कोरोना के लक्षण न हों। इन सभी 6 लोगों को मिठौरा क्षेत्र के जगदौर सीएससी पर बनाए गए विशेष आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट किया गया है। 

यह भी पढ़ें: जिलाधिकारी डा. उज्ज्वल कुमार डाइनामाइट न्यूज़ पर LIVE: तबलीगी जमात में शामिल लोगों पर दर्ज हुआ मुकदमा

जिलाधिकारी डा. उज्ज्वल कुमार ने डाइनामाइट न्यूज़ को बताया कि इसकी रिपोर्ट शासन को भेज दी गई है। तब्लीगी मरकज से शामिल होकर घर आए छह लोगों को जगदौर सीएचसी पर बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। इन लोगों के परिजनों को भी अस्पताल में आइसोलेट कराया जा रहा है।

पुलिस के मुताबिक इन सभी के 36 परिजनों को भी महराजगंज जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया और इन सभी का नमूना जांच के लिए भेजा जा रहा है। संक्रमण फैलने के खतरे के मद्देनजर जिला प्रशासन ने कम्हरिया बुजुर्ग, बड़हरा इंद्रदत्त, बिशुनपुर कुर्सियहवा व बिशुनपुर फुलवरिया गांव में सख्ती बढ़ा दी है और आने-जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। 18 व 19 मार्च को दिल्ली के निजामुद्दीन में आयोजित मरकज में शामिल होने के बाद बीते 21 मार्च को कामाख्या एक्सप्रेस से ये सभी गोरखपुर पहुंचे थे। इन सभी पर पहले ही केस दर्ज हो चुका है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार