बलरामपुर: संकुल प्रभारी पर शिक्षिकाओं के उत्पीड़न का अारोप, जांच टीम गठित

डीएन संवाददाता

सदर विकास खंड के सिंघवापुर संकुल में एक शिक्षक नेता ने संकुल प्रभारी पर महिला शिक्षिकाओं का उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। शिक्षा नेता के आरोपों पर जांच टीम गठित कर दी है, जो तीन दिन के अंदर अपनी रिपोर्ट पेश करेगी। पूरी खबर..

बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय

बलरामपुर: जिले में एक संकुल प्रभारी पर महिला शिक्षिकाओं के उत्पीड़न करने का मामला प्रकाश में आया है। मामला सदर विकास खंड के सिंघवापुर संकुल का है। शिक्षक नेता अजय सिंह ने बीएसए को शिकायती पत्र देकर आरोप लगाया कि संकुल प्रभारी जानकी टंडन महिला शिक्षिकाओं का उत्पीड़न करते है। साथ ही शिक्षक नेता ने आरोप लगाया है कि एनपीआरसी अपनी दंबगई के चलते शिक्षिकाओं के पासबुक, चेकबुक सहित वित्तीय अभिलेखों को अपने पास रखते है। जिससे शिक्षिकाओं को समस्याओं का सामना करना पड़ता है। 

बीएसए ने गंभीरता से लिया मामला

शिक्षक नेता के शिकायती पत्र को गंभीरता से लेते हुए बीएसए हरिहर प्रसाद ने त्वरित कार्रवाई करते हुए तीन सदस्यीय जांच टीम का गठन कर जांच के आदेश दे दिए है।

यह है तीन सदस्यीय जांच टीम

बीएसए द्वारा गठित तीन सदस्यीय जांच टीम में दो खंड शिक्षाधिकारी सहित एक समेकित शिक्षाधिकारी है। इनमें शिवपुरा के खंड शिक्षाधिकारी मोहम्मद हकीम खान, गैडास बुर्जुग के खंड शिक्षाधिकारी अश्वनी कुमार गुप्ता व समेकित शिक्षा की जिला समन्वयक आभा त्रिपाठी शामिल है।

तीन दिन के भीतर जांच रिपोर्ट

हरिहर प्रसाद बीएसए ने बताया कि मामला मेरे संज्ञान में आया था, जिस पर जांच टीम गठित कर तीन दिन के भीतर जांच कर रिपोर्ट देने का निर्देश टीम को दिया गया है। रिपोर्ट आने के बाद अगली कार्यवाही की जाएगी।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार