बलरामपुर: राप्ती नदी ने खतरे के निशान को किया पार, कई गांवों में गहराया बाढ़ का संकट, प्रशासन अलर्ट

डीएन संवाददाता

राप्ती नदी ने खतरे के निशान को पार कर ग्रामीणों के संकट को बढ़ा दिया है। नदी के बढ़ते जलस्तर के कारण यहां के कई गावों में बाढ़ का संकट गहराने लगा है। तटवर्ती क्षेत्रों के लोगों में भारी दहशत है। बाढ़ के संकट को लेकर प्रशासन अलर्ट हो गया है। पूरी खबर..

खतरे के निशान से ऊपर पहुंचा राप्ती का जलस्तर
खतरे के निशान से ऊपर पहुंचा राप्ती का जलस्तर

बलरामपुर: क्षेत्र में पिछले दिनों से जारी बारिश के कारण राप्ती नदी अब ऊफान पर पहुंच गयी है। राप्ती नदी ने खतरे के निशान ऊपर बहने लगी है, जिससे कई गांवों में बाढ़ का संकट गहराने लगा है। राप्ती नदी के लगातार बढ़ते जलस्तर से प्रशासन अलर्ट हो गया है। जलस्तर चेतावनी बिंदु के पार पहुंचने से कई गांवों में दहशत है।

 

 

रविवार सुबह राप्ती नदी का जलस्तर चेतावनी बिंदु चेतावनी बिंदु से 35 सेंटीमीटर ऊपर पहुंच गया है। रविवार की सुबह 103.970 मीटर जलस्तर रिकॉर्ड किया गया, जो खतरे की सीमा से कई ज्यादा है। जलस्तर बढ़ने से तटवर्ती क्षेत्रों के कई गांव पानी से घिरने लगे है। बाढ़ के खतरे को देखते हुए ग्रामीण खुद ही सुरक्षित स्थानों की तलाश करने में पहले ही जुट गये हैं।

जिला प्रशासन ने राप्ती नदी से लगी और क्षेत्र में मौजूद सभी बाढ़ चौकियों को अलर्ट जारी कर दिया है। जिले में पहले से मौजूद एनडीआरएफ व एसडीआरएफ की टीम राहत और बचाव कार्यों की तैयारियों में जुट गयी है। जलस्तर पर लगातार नजर रखी जा रही है और सभी संभावित उपाय पहले से तैयार करके रखे जा रहे हैं। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)













संबंधित समाचार