बलरामपुर: बरसात ने खोली नगर पालिका के दावों की पोल, अधिकारियों के फिर भी बड़े बोल

डीएन संवाददाता

नगर पालिका परिषद साफ-सफ़ाई पर लाखों रूपये खर्च करता है लेकिन इसके बावजूद भी बरसात में जलभराव और गदंगी की समस्या से जनता को निजात नहीं मिल पाती है। पालिका की लापरवाही के कारण स्थानीय लोगों को भारी दिक़्क़तों का सामना करना पड़ता है। पूरी खबर..

बारिश के कारण गन्दगी व जलभराव
बारिश के कारण गन्दगी व जलभराव

बलरामपुर: नगर पालिका परिषद साफ-सफ़ाई को लेकर भले ही लाख दावे करे पर हल्की सी बरसात होते ही पालिका के दावों की पोल खुल जाती है। बरसात में नगर में पानी ही पानी नजर आता है, जिससे आवागमन बाधित होने के साथ ही स्थानीय लोगों को भारी दिक़्क़तों का सामना करना पड़ता है। पालिका की उदासीनता के कारण नगर के चारों तरफ से नालियां जाम हो जाती है, जिससे गंदगी सड़कों पर फैल जाती है और संक्रामक बीमारियों का अंदेशा बढ़ जाता है।

 

 

गदंगी और जलभराव को लेकर डाइनामाइट न्यूज़ ने जब नगर पालिका के अधिशासी अभियंता राकेश जायसवाल से बातचीत की तो उन्होंने कहा कि बारिश के पानी को नालियां 15-20 मिनट के बाद खींच लेती है। जल भराव की शिकायत अभी कहीं से आई नहीं है।

बहरहाल अधिशासी अभियंता का यह बयान काफी हैरान करने वाला था, जबकि आसपास के क्षेत्रों में बरसात के कारण गन्दगी और जलभराव का आमदृश्य देखा जा सकता है।

 

 

बारिश होने के कुछ दिनों बाद नगर के सबसे वीआईपी मोहल्ले तुलसीपार्क, सिविल लाइन में जलभराव की समस्या बनी रहती है। वही सबसे ज्यादा जलभराव की समस्या से पूरब टोला, खलवा, मेजर चौराहा आदि क्षेत्रों  में समस्याए उभर कर सामने आती है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार