बलरामपुर: विश्व जनसंख्या दिवस पर दिखी अधिकारियों की घोर उदासीनता

डीएन संवाददाता

विश्व जनसंख्या दिवस पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की बड़ी उदासीनता सामने आयी है। तय कार्यक्रम के मुताबिक जब अधिकारी इस अहम मौके पर शामिल नहीं हुए तो आनन-फान में जागरूकता रथ सारथी यात्रा को आशा बहुओं व कर्मचारियों ने हरी झंड़ी दिखाकर रवाना किया।

जागरूकता रथ को रवाना करते कर्मचारी
जागरूकता रथ को रवाना करते कर्मचारी

बलरामपुर: जिले में विश्व जनसंख्या दिवस पर चिकित्सा विभाग की बड़ी उदासीनता देखने को मिली। इस खास मौके पर प्रस्तावित कार्यक्रम के मुताबिक जागरूकता रथ सारथी यात्रा निकाली जानी थी जिसे स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा हरी झंडी दिखानी थी लेकिन अधिकारियों की उदासीनता इस कदर दिखी कि वे समय पर कार्यक्रम में ही नहीं पहुंच सके जिसके बाद आशा बहुओं व विभाग के कर्मचारियों ने विवश होकर जागरूकता रथ को दोपहर में हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर जागरूकता रथ सारथी को जिले के मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय से सुबह 10 बजे रवाना होना था। इस कार्यक्रम के मौके पर संयुक्त जिला चिकित्सालय में आने वाले मरीजों के परिजनों के लिए जागरूकता कैंप भी आयोजित किया जाना था लेकिन कार्यक्रम की हकीकत कुछ और रही। दोपहर 1 बजे तक सीएमएस का कमरा बंद रहे और वे उपस्थित नहीं हो सके।

अधिकारियों के न पहुंचने पर आयोजन करने वाले कर्मचारी इधर-उधर भागते नजर आए। दोपहर 1 बजे तक न तो जागरूकता रथ को रवाना किया जा सका और न ही जागरूकता कैंप शुरू हो पाया। दोपहर बाद कुछ आशा बहुओं तथा कर्मचारियों द्वारा प्रचार वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवानाा कर दिया गया और विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर जनसंख्या नियंत्रण से संबंधित जागरूकता कार्यक्रम का प्रचार प्रसार पूरा हो गया। ऐसी स्थिति देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि अधिकारी कितने बेपरवाह हैं?

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार