DN Exclusive: मतदान के बाद भाजपा प्रत्याशी पंकज चौधरी का पहला बयान डाइनामाइट न्यूज़ पर, कहा- 'गठबंधन की खुल गयी है गांठ.. जीतूंगा भारी मतों से'

डीएन ब्यूरो

सातवें चरण में लोकसभा चुनाव के लिए उत्‍तर प्रदेश में आज 13 सीटों पर मतदान पूरा हो गया। महराजगंज लोकसभा पर भी आज ही मतदान संपन्‍न हुआ। इस सीट से भाजपा सांसद और उम्‍मीदवार ने कहा यह चुनाव मेरे लिए नहीं है न ही मैं यहां चुनाव यहां लड़ रहा हूं बल्कि यहां तो जनता चुनाव लड़ रही है। जनता का उत्‍साह देखकर कहा जा सकता है यहां से कोई बदलाव नहीं होने वाला है। देखें डाइनामाइट न्‍यूज़ पर उनसे एक्‍सक्‍लूसिव बातचीत:


महराजगंज: आज महराजगंज में सातवें चरण के मतदान के साथ लोकसभा चुनाव का चक्र पूरा हो गया। डाइनामाइट न्‍यूज़ ने वर्तमान सांसद और भाजपा उम्‍मीदवार पंकज चौधरी से खास बातचीत की जिसमें उन्‍होंने कई राज खोले और गठबंधन पर अपनी स्‍पष्‍ट राय रखी। देखें उनका विशेष इंटरव्‍यू:

डाइनमाइट न्‍यूज़ से बातचीत में उन्‍होंने कहा कि यह चुनाव मैं नहीं लड़ रहा हूं बल्कि यहां की जनता लड़ रही है। जब जनता चुनाव लड़ती है तो बढ़त के साथ जीत होना स्‍वाभाविक है, जिसका कोई दूसरा दल मुकाबला नहीं कर सकता है। मुझे जो आज दिन भर रिपोर्ट मिलती रही है और लोगों का उत्‍साह व कार्यकर्ताओं का साथ देखकर देख कर पक्‍का यकीन है कि यहां कोई लड़ाई नहीं है। 

यह भी पढ़ें: महराजगंज में इन-इन दिग्‍गजों ने आज डाले वोट.. आम लोगों के साथ खास ने भी किया मतदान

वहीं कितने मतों से जीतने के सवाल पर वह कहते हैं कि, अब यह तो 23 तारीख को पता चलेगा कि कितने वोटों से जीतेंगे लेकिन जो भी हो बहुत अधिक वोटों से जीतने वाले हैं। यह कह पाना थोड़ा मुश्किल है कि दूसरे नंबर पर कौन होगा लेकिन जो भी रहेगा, अंतर बहुत अधिक रहेगा। 

यह भी पढ़ें: महराजगंज में 5 बजे तक रिकॉर्ड तोड़ 61.2 प्रतिशत जबकि यूपी में कुल 47.21 फीसदी मत पड़े

गठबंधन की स्थिति का सवाल पूछने पर वह मुस्‍कुराकर कहते हैं कि मुझे तो कहीं गठबंधन दिखा नहीं है। गठबंधन की जो गांठ थी वह खुल गई है। यहां तीसरे किसी दल का भी कोई जोर नहीं है।भाजपा के अलावा दो अन्‍य दल आपस में लड़ रहे हैं अब इसमें से कौन दूसरे स्‍थान पर आएगा इसके बारे में कहना मुश्किल है।

यह भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल में सातवें चरण में भी हिंसा, फूंकी गाड़ियां और चले गोली-बम

प्रधानमंत्री कौन बनेगा के सवाल पर वह बिना किसी हिचकिचाहट के नरेंद्र मोदी की नाम लेते हैं। आगे कहते हैं कि यहां के ही लोग नहीं पूरे देश और समाज के लोग यही चाहते हैं कि मोदी जी की सरकार फिर से आए। साथ ही यह पहली सरकार थी कि जिसके खिलाफ कोई विरोधी लहर नहीं थी। यह बहुत सालों बाद हुआ है। इस बार सत्‍ता पक्ष के साथ लहर है। 

यह भी पढ़ें: मतदान को उत्‍साहित मतदाता पहुंच रहे बूथ, कुछेक जगहों से ईवीएम में खराबी की सूचना

यदि इस बार फिर से सरकार बनती है तो क्‍या मंत्री बनाए जाएंगे इस सवाल पर वह कहते हैं कि यह पार्टी का निर्णय होता है। हम लोग पार्टी के कार्यकर्ता है। कार्यकर्ता के रूप में सांसद भी होते हैं और साथ ही पार्टी जो निर्णय करेगी उसका पालन किया जाएगा।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …