अयोध्या विवाद पर एक नजर.. इन 5 मुद्दों से आया राम मंदिर निर्माण को लेकर उबाल

डीएन ब्यूरो

6 दिसंबर 1992 के दिन भारत के इतिहास में एक ऐसा कालखंड लेकर आया जिससे आज तक देश में उबाल है। यह दिन बाबरी मस्जिद विध्वंस के रूप में जाना जाता है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें क्यों देश में फिर से राजनीति हुई गर्म

बाबरी मस्जिद विध्वंस से देश में उबाल (फाइल फोटो)
बाबरी मस्जिद विध्वंस से देश में उबाल (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः 6 दिसंबर 1992 का वह दिन भारतीय इतिहास में एक काले अध्याय के रूप में जुड़ गया जब अयोध्या में हिंदू संगठनों ने सरकार के साथ मिलकर बाबरी मस्जिद को ढहा दिया। राम मंदिर को लेकर कार्यसेवकों में इतना उबाल था कि उन्होंने महज 17 से 18 मिनट के अंदर के ही बाबरी मस्जिद को ढहा दिया।  

अयोध्या विवाद को लेकर इन पांच मुद्दों से आया देश में उबाल  

1. बाबरी मस्जिद के विध्वंस से पहले 30 नवंबर 1992 को लालकृष्ण आडवाणी ने मुरली मनोहर जोशी के साथ अयोध्या जाने का ऐलान किया था। तभी से ही बाबरी मस्जिद के विध्वंस को लेकर पूरी रूपरेखा तैयार हो गई थी।  

2. अयोध्या को लेकर तब 5 दिसंबर 1992 की शाम केंद्रीय गृह मंत्री शंकर राव चौहान ने कहा था कि अयोध्या में कुछ नहीं होगा। उन्हें तब अपनी खुफिया एजेंसियों की तुलना में यूपी के मुख्यमंत्री कल्याण सिंह पर ज्यादा भरोसा था।      

यह भी पढ़ेंः 2 बजे अयोध्या पहुंचेंगे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे.. जय श्री राम के नारों की लगी गूंज

    

कारसेवकों ने अयोध्या में मचाया था बवाल (फाइल फोटो)

 

3. तब तत्कालीन प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव को उत्तर प्रदेश के सीएम कल्याण सिंह के उस बयान पर ज्यादा भरोसा था जिसमें उन्होंने बाबरी मस्जिद की सुरक्षा की बात कहीं थी। 

4. वहीं खुफिया एजेंसियों को कारसेवकों के बढ़ते गुस्से को देखकर अंदाजा हो गया था कि कारसेवक कभी भी बाबरी मस्जिद पर धावा बोल सकते हैं और यहां ढांचे को ध्वस्त कर सकते हैं। इसके बावजूद यहां पर सावधानी नहीं बरती गई।   

यह भी पढ़ेंः PM मोदी को संसद में विशेष प्रस्ताव लाकर राम मंदिर बनाने का रास्ता करना चाहिये साफः बाबा रामदेव  

5. फिर आया 6 दिसंबर 1992 का वह काला दिन जब कारसेवकों ने बाबरी मस्जिद को कुछ ही मिनटों में ध्वस्त कर दिया और जय श्री राम के नारों से अयोध्या गूंज उठा। इसके कुछ ही घंटों बाद प्रदेश के तब तत्कालीन सीएम कल्याण सिंह ने इस्तीफा दे दिया।

अयोध्या में राम मंदिर को लेकर मचे घमासान के बीच डाइनामाइट न्यूज़ आप तक पहुंचा रहा है हर एक अपडेट सबसे पहले.. क्लिक करें ये लिंक https://hindi.dynamitenews.com/tag/DynamiteAyodhyaUpdate और जानें लेटेस्ट खबरें

 

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार