गोरखपुर शहर में 9-10 दिसंबर को रहेंगे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, खास रहेगा ये दौरा

डीएन ब्यूरो

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अगले महीने नौ और दस दिसंबर को गोरखपुर में ठहरेंगे। राष्ट्रपति के यहां यह दो दिवसीय दौरा कई मायनों में अहम माना जा रहा है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें गोरखपुर में क्या होने जा रहा है खास

गोरखपुर में पधारेंगे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (फाइल फोटो)
गोरखपुर में पधारेंगे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (फाइल फोटो)

गोरखपुरः राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद उत्तर प्रदेश के गोरखपुर का दौरा करने वाले हैं। वह यहां 9 से 10 दिसंबर तक रहेंगे। राष्ट्रपति को गोरखपुर में महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के संस्थापक सप्ताह समारोह में बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया गया है। यहां उनसे पहले चार दिसंबर को उद्धाटन समारोह में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह भी बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करने वाले हैं। मौसम में तेजी से हो रहे बदलाव के चलते राष्ट्रपति और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री को कार्यकर्म में एक दिन पहले आमंत्रण दिया गया है।    

यह भी पढ़ेंः भूले नहीं भूलता 26/11 का वो मंजर.. अब अमेरिका आया आगे, करेगा ये कार्रवाई

 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (फाइल फोटो)

 

यह भी पढ़ेंः सरकार नहीं लायी अध्यादेश तो लोग खुद ही शुरू कर देंगे राम मंदिर का निर्माणः बाबा रामदेव

यहां महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के संस्थापक सप्ताह समारोह के शुभारंभ के दिन ही प्रताप इंटर कॉलेज स्थित प्रताप वाटिका से शोभा यात्रा निकाली जायेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इसमें शामिल होंगे। योगी पहले गोरखपुर मंदिर में अखंड ज्योति प्रज्ज्वलित करेंगे उसके बाद शोभा यात्रा में शामिल होंगे। इस दौरान अखंड ज्योति शोभा यात्रा शहर के विभिन्न जगहों पर निकाली जायेगी। यह अखंड ज्योत एक सप्ताह तक प्रताप वाटिका में रहेगी।     

यह भी पढ़ेंः भूकंप से दहला इराक-ईरान का सीमावर्ती क्षेत्र, एक की मौत, कई घायल

महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के संस्थापक सप्ताह समारोह के दौरान यहां 5 से 9 दिसंबर तक विभिन्न प्रतियोगिताएं भी आयोजित की जाएंगी जिसमें स्कूली बच्चे भाग लेंगे। विजयी प्रतिभागियों को राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित भी किया जायेगा। गोरखपुर मंदिर स्थित दिग्विजयनाथ स्मृति सभागार में यह पुरष्कार वितरण समारोह आयोजित किया जायेगा।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार