AMU एल्युमिनाई मीटः छात्रों ने लिखे कश्मीर संबंधी संदेश,कहा-हमारे भविष्य से मत खेलो

डीएन ब्यूरो

एएमयू में चल रही एल्युमिनाई मीट में विश्वविद्याल ये 300 पूर्व छात्र हिस्सा लेने के लिए पहुंचे हैं। वहीं विश्वविद्यालय में कश्मीर से भी छात्र-छात्राएं पहुंची है, इन सभी कश्मीरी छात्रों को भरोसा है कि इस मीट में उनके साथ विश्वविद्यालय प्रशासन अन्याय नहीं होने देगा। डाइनाइट न्यूज़ की इस खबर में पढ़िये, क्या कह रहे हैं कश्मीरी छात्र

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्याल में कश्मीरी छात्रों का उमड़ा हुजूम
अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्याल में कश्मीरी छात्रों का उमड़ा हुजूम

अलीगढ़ः सुरक्षाबलो द्वारा जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में मुठभेड़ में मारे गये आतंकी मन्नान वानी को लेकर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में कश्मीरी छात्रों द्वारा जनाजे की नमाज पढ़ने को लेकर यहां उपद्रव फैल गया था। इस मामले ने काफी तूल पकड़ा है। वानी एएमयू का पूर्व छात्र व शोधार्थी रह चुका है। 

कश्मीरी छात्रों ने उसे निर्दोष बताते हुए विश्वविद्यालय में नारेबाजी की और वानी के जनाजे की नमाज पढ़ी जिससे पुलिस और विश्वविद्यालय प्रशासन ने सख्ती से लिया और ऐसा करने वाले कुछ छात्रों को निलंबित कर दिया। अब आज एएमयू में एल्युमिनाई मीट का आयोजन किया जा रहा है।      

यह भी पढ़ेंः AMU में वो कौन कश्मीरी छात्र थे जिन्होंने आतंकी वानी का किया सपोर्ट

 

एएमयू में कश्मीरी छात्रों के हाथ में पोस्टर

जिसमें उत्तर प्रदेश के पूर्व डीजीपी रिजवान अहमद को मुख्यअतिथि के एएमयू ने आमंत्रित किया है। इस एल्युमिनाई में कश्मीर से भी कई छात्र पहुंचे हुए है। सम्मलेन में तकरीबन 300 पूर्व छात्र हिस्सा ले रहे हैं।     

यह भी पढ़ेंः यूपी के अलीगढ़ में छुपा है बड़ा तेल भंडार.. ONGC ने शुरू की खोज  

एल्युमिनाई मीट में कश्मीरी छात्र इन मांगों के लिये हुए हैं एकजुट     

 

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय 

 

1. कश्मीरी छात्रों ने अपने-अपने मुंह पर काले टेप लगाये हुए हैं। यह एएमयू में उनके सहयोगी कश्मीरी छात्रों के साथ हुए बुरे व्यवहार व उन्हें निष्काषित किये जाने का विरोध कर रहे हैं।     

यह भी पढ़ेंः जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों ने शोपियां में मुठभेड़ के दौरान पांच आतंकवादियों को किया ढेर

2. कश्मीरी छात्रों की मांग है कि मन्नान वानी के समर्थन में जिन दो छात्रों को निलंबति किया गया है उनका निलबंन वापस लिया जाये।व

3. यहां विश्वविद्यालय परिसर में कश्मीरी छात्रों ने जो नमाज अदा की थी उन पर यह आरोप लगाये गये कि इन छात्रों ने देशद्रोही नारे भी लगाये थे, जो कि पूरी तरह से गलत। कश्मीरी छात्र उन पर लगाये गये देशद्रोह के केस को भी वापस लेने की मांग कर रहे हैं।    

 

वानी के सपोर्ट में उतरे कश्मीरी छात्र

 

यह भी पढ़ेंः शोपियां में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, जिंदा पकड़ा गया हिज्बुल का आतंकी, दूसरा ढेर  

4. एएमयू में कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे इन कश्मीरी छात्रों के प्रदर्शन के बाद यहां हंगामे की स्थिति बनी हुई है। छात्रों ने विश्वविद्यालय प्रशासन व पुलिस के खिलाफ हाथों में बैनर व पोस्टर भी लिये हैं। 

5. कश्मीरी छात्रों ने पोस्टर में लिखा है कि कश्मीरी होना अपराध नहीं, हमारे भविष्य से मत खेलो, खुलकर बोलना हमारी आजादी, हम भी अलीगढ़ के है। 
 








संबंधित समाचार