UPSC Topper Shah Faesal: आईएएस अफसर शाह फैसल को राजनीति नहीं आई रास, 3 साल बाद प्रशासनिक सेवा में फिर हुए बहाल

डीएन ब्यूरो

वर्ष 2009 में यूपीएससी परीक्षा के टॉपर रहे जम्मू कश्मीर के आईएएस अफसर शाह फैसल 2019 में इस्तीफा देकर राजनीति में चले गये थे। लेकिन 3 साल के अंदर ही राजनीति से उनका मोह भंग हो गया। शाह फैसल के अनुरोध पर उनकी दोबारा बहाली कर दी गई है। पढ़िये डाइनामाइट न्यूज़ की पूरी रिपोर्ट

शाह फैसल की प्रशासनिक सेवा में बहाली (फाइल फोटो)
शाह फैसल की प्रशासनिक सेवा में बहाली (फाइल फोटो)


नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर से यूपीएससी के पहले टॉपर रहे शाह फैसल ने बतौर आईएएस अफसर नौकरी ज्वाइन करने के 10 साल बाद सरकारी सेवा से इस्तीफा दे दिया दिया। फैसल ने जनवरी 2019 में अपना इस्तीफा देकर जम्मू एंड कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट (जेकेपीएम) पार्टी बनाकर सियासत का रुख किया था, लेकिन उनकी यह हसरत तकनीकि कारणों से पूरी नहीं हो सकी। फैसल ने हाल ही में एक बार फिर से सरकारी सेवा में लौटने का अनुरोध किया था। शाह फैसल के इस्तीफा वापस लेने के आवेदन को स्वीकार कर उन्हें सरकारी सेवा में बहाल कर दिया गया है।

सरकार द्वारा प्रशासनिक सेवा में शाह फैसल की अगली नियुक्ति की घोषणा जल्द की जाएगी। 

यहां बता दें कि आईएएस की नौकरी छोड़कर जेकेपीएम पार्टी बनाने वाले शाह फैसल का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया गया था। क्योंकि उस समय जम्मू और कश्मीर के विशेष दर्जे को निरस्त करने के तुरंत बाद कड़े सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम के तहत उन्हें हिरासत में लिया गया था। इसलिये राजनीतिक पार्टी बनाने के बाद भी वे राजनीति में कार्य न कर सके। 

गृह मंत्रालय के अधिकारियों के अधिकारियों के मुताबिक फैसल के इस्तीफा वापस लेने के अनुरोध को स्वीकार कर लिया गया है। गृह मंत्रालय, जो अरुणाचल प्रदेश-गोवा-मिजोरम और केंद्र शासित प्रदेश (एजीएमयूटी) कैडर के लिए कैडर नियंत्रण प्राधिकरण है, ने इस्तीफा वापस लेने की उनकी याचिका के बारे में जम्मू-कश्मीर प्रशासन से राय मांगी थी। 

अधिकारियों ने कहा कि आईएएस को देखने वाले कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग के अलावा सभी जगहों से रिपोर्ट मिलने के बाद, उनके अनुरोध को स्वीकार करने का निर्णय लिया गया और बाद में इस महीने की शुरुआत में उन्हें बहाल कर दिया गया।










संबंधित समाचार