UP STF ने कुख्यात हाईवे लुटेरों के गैंग का किया पर्दाफाश, 9 गिरफ्तार, लाखों का माल बरामद

डीएन ब्यूरो

यूपी एसटीएफ ने दिल्ली-एनसीआर में राजमार्गों पर माल लदे ट्रकों को लूटने वाले एक गैंग का पर्दाफाश कर हाईवे रॉबरी की कई वारदातों से पर्दा उठाया है। इस मामले में 9 कुख्यात बदमाशों को गिरफ्तार किया गया और लाखों रूपयों का लूट का माल भी बरामद किया गया। डाइनामाइट न्यूज की स्पेशल रिपोर्ट..


नोएडा: यूपी एसटीएफ के चीफ अमिताभ यश के निर्देश पर उनकी टीम ने एक और बड़े आपराधिक मामले का खुलासा किया है। एसटीएफ ने हथियारों के बल पर दिनदहाड़े ट्रक लूटने और लोडेड माल को ठिकाने लगाने वाले एक कुख्यात गिरोह का भंडाफोड़ किया। एसटीएफ ने दिल्ली-एनसीआर में हॉईवे रॉबरी को अंजाम वाले इस गैंग का पर्दाफाश करते हुए ट्रत लूट के कई मामलों को सुलझा लिया है। गैंग के सरगना समेत 9 कुख्यात बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है।

यह भी पढ़ें: UP STF की एक और कामयाबी, नलकूप संचालक भर्ती परीक्षा पेपर लीक में 11 गिरफ्तार, परीक्षा रद्द 

बरामद लूट का माल और गिरफ्तार लुटेरे

 

गिरफ्तार किये गये सभी आरोपी नोएडा, गुरूग्राम समेत दिल्ली-एनसीआर और आसपास के क्षेत्रों में हथियारों के बल पर माल लदे ट्रकों को लूटते थे। गिरफ्तार किये गये सभी आरोपियों से पूछताछ की जारी है। एसटीएफ इस गिरोह से जुड़े अन्य सदस्यों का पता लगाने की भी कोशिश में जुटी हुई है।

गिरफ्तार आरोपियों के पास से एसटीएफ को एक होंडा सिटी कार के अलावा दो ईको गाड़ी, लूटे गये 383 मोबाइल फोन भी बरामद किये है। अपराधियों के पास से एसटीएफ ने दो तमंचा 315 बोर, एक जिन्दा कारतूस समेत लाखों रूपये का लूट का माल बरामद किया।

यूपी एसटीएफ को लगातार दिल्ली, हरियाणा, एवं एनसीआर के क्षेत्रों के आसपास से ट्रक लूट की सूचनायें मिल रही थी। जिसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह व एसटीएफ टीम ने लुटेरों के विरूद्ध सघन अभियान चलाकर के इस गैंग का पर्दाफाश किया।

यह भी पढ़ें: लखनऊ: यूपी एसटीएफ ने मौत के सौदागर को किया गिरफ्तार, कई मौतों के मामले में था वांछित 

गिरफ्तार किये गये आरोपियों की पहचान नवनीत पुत्र दानवीर (बुलन्दशहर), संदीप पुत्र चमन (गौतमबुद्ध नगर), भानू तोमर पुत्र राजसिंह तोमर (अलीगढ़), करन तोडिया पुत्र मनोज कुमार (अलीगढ़), बादल शर्मा पुत्र छिद्दी लाल शर्मा (गौतमबुद्ध नगर), राकेश पुत्र कृष्ण (हरियाणा), नितिन पुत्र धीरेन्द्र सिंह (दिल्ली), राहुल पुत्र किशन (दिल्ली) और बलराम सिंह चंडालिया उर्फ बल्ली पुत्र दीवान सिंह (गौतमबुद्ध नगर) के रूप में हुई है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …