UP सरकार बढ़ायेगी डायल-100 पुलिस का दायरा, ट्रेनों में भी इस तरह ले सकेंगे मदद आप

डीएन ब्यूरो

उत्तर प्रदेश में आम जनता को तत्काल मदद मुहैय्या कराने के लिये यूपी पुलिस द्वारा शुरू की गयी डायल-100 सेवा को सरकार द्वारा विस्तारित किया जा रहा है। डाइननामाइट न्यूज़ की इस एक्सक्लूसिव रिपोर्ट में पढ़ें, ट्रनो में भी कैसे ले सकते हैं आप पुलिस की इस सेवा से मदद..

रेल यात्रियों की मदद के लिये भी अब तैयार रहेगी पुलिस (फाइल फोटो)
रेल यात्रियों की मदद के लिये भी अब तैयार रहेगी पुलिस (फाइल फोटो)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार यूपी पुलिस की डायल-100 सेवा का विस्तार करने जा रही है। अब यूपी में रेल यात्रा करने वाले लोगों को भी पुलिस डायल-100 के जरिये मदद मुहैय्या करा सकेगी और कोई भी रेल यात्री ट्रेन में बैठे-बैठे यूपी पुलिस से मदद की गुहार लगा सकेगा। इस सेवा के विस्तार से ट्रेनों और रेलवे स्टेशन परिसरों में अपराध और अपराधियों पर लगाम लगाया जा सकेगा। 

गोरखपुर परिक्षेत्र से शुरू होगा ट्रायल 

यूपी पुलिस की डायल-100 सेवा का विस्तार मुख्यमंत्री योगी के गृहजनपद गोरखपुर क्षेत्र से ही इस माह के अंत तक ट्रायल आधार पर शुरू होगी, जिसके बाद इसका आकलन करके राज्य के अन्य क्षेत्रों में भी इसकी पहुंच को विस्तारित किया जा सकेगा। इसके लिये गोरखपुर, एसपी रेलवे कार्यालय, जीआरपी कंट्रोल रूम आदि स्थानों पर मोबाइल डाटा टर्मिनल स्थापित किये जा चुके है। इसके अलावा गोरखपुर परिक्षेत्र में आजमगढ़, भटनी आदि स्थानों पर टर्मिनल स्थापित किये जा चुके हैं।  

गौरतलब है कि डायल-100 सेवा को रेलवे स्टेशनों और ट्रनों से अलग रखा गया था। ट्रेन के अंदर और रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षा का जिम्मा जीआरपी और आरपीएफ की होती है। राज्य के अंदर इस नई सेवा का लाभ लने के लिये रेल यात्रियों को अपने मोबाइल से पुलिस की मदद के लिये 100 नंबर डायल करना पड़ेगा जिसके बाद यूपी पुलिस जीआरपी और आरपीएफ से समन्वय स्थापित कर ट्रेन यात्रियों को भी हर संभव मदद मुहैय्या कराने का प्रयास करेगी। इसके लिये पुलिस रेलवे से जानकारी हासिल कर उस स्थान पर पहुंचेगी जहां ट्रेन का अगला पड़ाव या स्टेशन होगा और मौके पर जरूरी कार्रवाई कर यात्री को मदद उपलब्ध कराई जायेगी।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …