चुनाव आयोग के प्रतिबंध के बावजूद मंदिर जाने पर नोटिस दिए जाने पर साध्‍वी प्रज्ञा ने कहा- मंदिर जाने से नहीं होता उल्लंघन

डीएन ब्यूरो

नोटिस के उल्‍लंघन पर नोटिस दिए जाने पर साध्‍वी प्रज्ञा कहती है वह नोटिस का जवाब देने के लिए तैयार हैं, क्योंकि उन्होंने आयोग के बैन का कोई उल्लंघन नहीं किया। साध्वी प्रज्ञा के चुनाव प्रचार पर गुरुवार सुबह 6 बजे से 72 घंटे तक बैन लगाया गया था।

मंदिर में भजन गाती साध्‍वी प्रज्ञा
मंदिर में भजन गाती साध्‍वी प्रज्ञा

भोपाल: लोकसभा चुनाव में प्रचार के दौरान विवादित बयान देने के कारण चुनाव आयोग ने साध्‍वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर नोटिस जारी किया था। जिसके बाद वह प्रतिबंध की समयसीमा शुरू होने पर भोपाल के रिवेरा टाउन स्थित हनुमान मंदिर, चौक इलाके के भवानी मंदिर और फिर गुफा मंदिर के दर्शन के लिए निकल पड़ीं थी। इस मामले में चुनाव आयोग ने उन्हें फिर नोटिस जारी कर दिया है। उनसे तीन दिन के अंदर जवाब मांगा गया है।

यह भी पढ़ें: प्रचार से रोक हटते ही मायावती ने योगी के 'टेंपल रन' पर उठाए सवाल, बोली- कैसे होंगे निष्‍पक्ष चुनाव

प्रज्ञा ने चुनाव आयोग के नोटिस का जवाब देते हुए कहा है कि वह अपनी मर्जी से मंदिर गईं थीं। उन्होंने अपने साथ किसी को नहीं बुलाया। प्रतिबंध के दौरान उन्होंने कोई चुनाव प्रचार नहीं किया है।

उनके चुनाव प्रचार पर गुरुवार सुबह 6 बजे से 72 घंटे तक बैन लगाया गया था। जिसके बाद साध्वी प्रज्ञा ने चुनाव प्रचार तो नहीं किया लेकिन वह मंदिर में भजन-कीर्तन और भगवान का दर्शन करती रहीं। 

यह भी पढ़ें: तृणमूल कांग्रेस के पक्ष में बांग्‍लादेशी कलाकारों का रोड शो, गृह मंत्रालय ने मांगी रिपोर्ट

शुक्रवार को साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने ताबड़तोड़ 6 मंदिरों में जाकर भगवान के दर्शन किये और आशीर्वाद लिया था। मंदिर दर्शन का यह सिलसिला शुक्रवार सुबह जैन मंदिर से शुरू हुआ था जो दोपहर तक जारी रहा। 

बैन के बाद गौशाला में प्रज्ञा ठाकुर

कांग्रेस ने साध्वी के इस तरह मंदिर-मंदिर जाने की निर्वाचन अधिकारी से शिकायत की थी। साथ ही मंदिर और गौशाला में पार्टी कार्यकर्तओं के साथ जाने की शिकायत भी जिला निर्वाचन अधिकारी से की गई। जिस पर आयोग ने नोटिस भेजकर जवाब मांगा गया है। साध्वी का जवाब मिलने के बाद जिला निर्वाचन अधिकारी अपनी रिपोर्ट चुनाव आयोग को भेजेंगे।

यह भी पढ़ें: चुनाव प्रचार पर रोक के बाद भी सीएम योगी ने‘बजरंगबली’मंदिर में किया हनुमान चालीसा पाठ

योगी आदित्‍यनाथ ने भी बैन के बाद अपनाई थी यही रणनीति

उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रचार पर बैन के बाद लखनऊ से लेकर अयोध्या तक मंदिरों के दर्शन किए थे। प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने भी मंदिरों का रुख किया।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …