ननकाना साहिब हमले पर बोले राहुल-कट्टरता जहर समान, जिसकी कोई सीमा नहीं

डीएन ब्यूरो

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पाकिस्तान में सिखों के धर्मस्थल ननकाना साहिब पर भीड़ के हमले को धर्मांधता करार देते हुए कहा कि इस तरह की घटनाएं निंदनीय हैं और सभी को एक स्वर इसकी निंदा करनी चाहिए।

राहुल गांधी
राहुल गांधी

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पाकिस्तान में सिखों के धर्मस्थल ननकाना साहिब पर भीड़ के हमले को धर्मांधता करार देते हुए कहा कि इस तरह की घटनाएं निंदनीय हैं और सभी को एक स्वर इसकी निंदा करनी चाहिए। गांधी ने ट्वीट किया ननकाना साहिब पर हमला निंदनीय है और निस्संदेह इसकी आवश्यकरूप से निंदा की जानी चाहिए। धर्मांधता एक सीमा रहित खतरनाक और पुराना जहर है जिसका निदान सिर्फ प्यार, पारस्परिक सम्मान तथा आपसी समझ में निहीत है।

कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीपसिंह सुरजेवाला ने भी इस घटना की निंदा की और कहा ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर हुआ हमला मानवता के आदर्शों तथा धार्मिक मूल्यों को शर्मसार करने वाली घटना है। इस हमले के लिए सीधे तौर पर पाकिस्तान की सरकार ज़िम्मेवार है। इस घटना की हम कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। पाकिस्तान की सरकार ननकाना साहिब की सुरक्षा सुनिश्चित करे। गौरतलब है कि पाकिस्तान में स्थित सिखों के पवित्र स्थल ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर शुक्रवार को भीड़ ने पथराव किया जिसके कारण पहली बार सिख धर्म के संस्थापक पहले गुरु नानक देवजी के जन्मस्थल पर भजन-कीर्तन रद्द करना पड़ा। भारत सरकार ने इस हमले की कड़ी निंदा करते हुए पाकिस्तान से सिखों की सुरक्षा सुनिश्चित करने और हमलावरों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार