उत्पीड़न से तंग महिला होमगार्ड चढ़ी टॉवर पर, किस्मत ने बचाया नही तो कूद कर कर लेती आत्महत्या

डीएन ब्यूरो

मेरठ के सिविल थाना क्षेत्र स्थित MDA भवन के टॉवर पर सैलरी की मांग को लेकर चढ़ी एक महिला होमगार्ड ने मंगलवार को पुलिस प्रशासन के पीसने छुड़ा दिये। वह वहां से कूदने का प्रयास करने लगी तो पुलिस के हाथ-पांव फुल गये। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें पूरा मामला


मेरठः सिविल थाना क्षेत्र स्थित MDA भवन की छत पर लगे टावर की छत पर मंगलवार को एक महिला होमगार्ड चढ़ गई। महिला को टावर पर चिल्लाते हुये देखकर वहां आस-पास लोग दंग रह गये। उन्होंने महिला होमगार्ड को यह कहते हुये सुना कि उसे कई महीने से विभागीय वेतन नहीं दिया गया है। महिला बार-बार अधिकारियों को उसके वेतन रोकने को लेकर उनके खिलाफ चिल्ला रही थी।        

यह भी पढ़ेंः इकाना स्टेडियम के बाहर बवाल..सपा कार्यकर्ताओं ने नाम बदले जाने का किया विरोध

 

   

 

महिला का कहना था कि अगर उसे अब वेतन नहीं मिला तो वह आत्महत्या कर लेगी। यह सुनकर वहां मौजूद लोगों ने इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला को टावर से नीचे उतरने के लिये कई बार समझाया लेकिन वह अपनी सैलरी की मांग को लेकर अड़ी रही। महिला होमगार्ड ने पुलिस वालों को बताया कि कई महीने से उसका वेतन रोककर रखा गया है विभागीय अधिकारी उसका शोषण कर रहे हैं।         

यह भी पढ़ेंः मुस्लिम युवक को महंगा पड़ा सीएम योगी पर कमेंट करना, संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज  

 

 

टॉवर पर सैलरी की मांग को लेकर चढ़ी महिला होमगार्ड

 

यह भी पढ़ेंः हनुमान जयंती आज, जरूर करें ये काम, दुश्मन हो जायेंगे साफ  

इस पर पुलिस ने बड़ी मशक्कत के बाद महिला को कार्रवाई का आश्वासन देकर टावर से नीचे उतारा। पुलिस के मुताबिक महिला मेरठ के किला परीक्षितगढ़ की रहने वाली है जिसका नाम संगीता गहलोत है वह फिलहाल महिला थाने में होमगार्ड के पद पर तैनात है। पुलिस ने जब उसे टावर से नीचे उतारा तो वह तभी अचानक बेहोश हो गई। पुलिस ने उसे आनन- फानन में जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …