मेरठ: एंटी करप्शन टीम ने अमीन को रिश्वत लेते रंगे हाथ दबोचा

डीएन संवाददाता

मेरठ जनपद में एंटी करप्शन की टीम ने एक आमीन को रंगे हाथ रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर लिया है, जिससे पूछताछ की जा रही है। डाइनामाइट न्यूज की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..


मेरठ: एंटी करप्शन की टीम ने भू अध्यापित अमीन को 3500 हज़ार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ किया गिरफ्तार। रिश्वतखोर का नाम नीरज तायल है, जो एडीएम कार्यालय में भू अध्यापित अमीन के पद पर तैनात है। एन्टी करप्शन के अधिकारियों का कहना है कि वादी ब्रह्म सिंह आर्य की शिकायत पर कार्यवाही की गई है। जिसके पास से रिश्वत के 3500 रुपये बरामद किये गए है।

यह भी पढें: मेरठ में सिपाही की गोली मारकर हुई हत्या का एसपी देहात ने किया खुलासा

ब्रह्म सिंह ने एंटी करप्शन के अधिकारियों से शिकायत की थी कि उसकी जमीन थाना खरखौदा क्षेत्र के धनौटा गांव में जमीन है। जोकि रेलवे कारिडोर में अधिकृत हुई है। वही आरोप है कि एडीएम एलए कार्यालय में अमीन के पद पर तैनात नीरज तायल ने अधिकृत जमीन की नकल की एक कॉपी पर 500 रुपये की मांग की थी। आरोपित नीरज तायल ने वादी से सात नकल की एवज में 3500 रूपये की डिमांड रखी। वादी ब्रह्म सिंह ने इसकी सूचना एंटी करप्शन के अधिकारियों को दी। जिसके बाद एन्टी करप्शन के प्रभारी निरीक्षक अरविंद कुमार ने टीम गठित करके रिश्वतखोर अमीन नीरज तायल को एडीएम एल ए  के कार्यालय में छापा मारकर रिश्वत लेते रंगे हाथों दबोच लिया।

यह भी पढ़ें: मेरठः स्वास्थ्य विभाग की टीम ने भ्रूण लिंग जांच करने वाले गिरोह का किया पर्दाफाश, 3 गिरफ्तार

एंटी करप्शन के प्रभारी निरीक्षक अरविंद कुमार ने बताया कि गिरफ्तार अमीन नीरज तायल वादी वीरेंद्र सिंह से भूमि अधिग्रहण की नकल के नाम पर पैसो की मांग कर रहा था क्योंकि रेलवे के लिए हो रही भूमि अधिग्रहण के मुआवजे का काम अमीन नीरज तायल ही देख रहा था । जिसे एंटीकरप्शन के अधिकारियों ने टीम के साथ धर दबोचा। हिरासत में लेने के बाद एंटीकरप्शन की टीम आरोपित से थाना सिविल लाइन में पूछताछ कर करवाई कर रही है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …