महराजगंज: नये एसपी रोहित सिंह सजवान की दो टूक- नेताओं के दबाव में गलत काम करने नही.. जनता की सेवा करने आया हूं यहां

शिवेंद्र चतुर्वेदी

महराजगंज के नवागत एसपी रोहित सिंह सजवान का धमाकेदार इंटरव्यू डाइनामाइट न्यूज़ पर इस समय आप देख रहे हैं। टिहरी गढ़वाल के रहने वाले 2013 बैच के रोहित ने जिले में ज्वाइनिंग के बाद सबसे पहले डाइनामाइट न्यूज से बातचीत की। एक स्पेशल इंटरव्यू में उन्होंने अपनी प्राथमिकताएं गिनायीं। पूरा इंटरव्यू..


महराजगंज: 2013 बैच के युवा आईपीएस रोहित सिंह सजवान को महराजगंज में बतौर एसपी नियुक्त किया गया है। पुलिस अधीक्षक के रुप में यह उनकी पहली तैनाती है। 

अपनी तैनाती के बाद सबसे पहले उन्होंने डाइनामाइट न्यूज़ के साथ बातचीत की। अपने एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में रोहित मे अपनी प्राथमिकताएं डाइनामाइट न्यूज़ के माध्यम से जनता के बीच रखी। 

यह भी पढ़ें: महराजगंज के एसपी का तबादला.. जिले की सबसे बड़ी खबर डाइनामाइट न्यूज़ पर

पूरा इंटरव्यू: 

सवाल: महराजगंज में काफी अर्से बाद किसी डायरेक्ट आईपीएस की नियुक्ति बतौर एसपी हुई है, जिले के लोगों को आपसे काफी उम्मीदें हैं, क्या कहेंगे?

जबाव: मेरी प्राथमिकता कानून-व्यवस्था को बनाये रखना और अपराध को नियंत्रण करना है। महराजगंज में ऐसे कई कस्बे है जहां ट्रैफिक की समस्या होती है वो इसे सुधारने का प्रयास करेंगे। फरियादियों की समस्या का भी जल्द से जल्द निस्तारण की कोशिश करेंगे।

यह भी पढ़ें: यूपी में 29 आईपीएस और 14 पीपीएस के तबादले, शलभ माथुर की बुरी दुर्गति, गोरखपुर-महराजगंज सहित 14 जिलों में नये कप्तान

सवाल: महराजगंज जिला नेपाल बार्डर से जुड़ा है आये दिन आतंकवादियों का आना-जाना और तस्करी जोरों पर रहती है इसके बारे में क्या कहेंगे?

जबाव: जिले का करीब 85 किलोमीटर के आसपास का क्षेत्र नेपाल की सीमा से लगा हुआ है। इसमें पुलिस के साथ जो सशस्त्र सीमा बल व अन्य गुप्तचर एजेंसियां है उनके साथ तालमेल बिठाकर समन्वय स्थापित करके अवैध गतिविधियों को रोकने की कोशिश करेंगें, चाहे वो शराब की तस्करी हो या फिर नारकोटिक्स का मामला।

यह भी पढ़ें: बीस पीपीएस अफसरों की ड्यूटी लगाई गई कुंभ मेले में, पूरी लिस्ट डाइनामाइट न्यूज़ पर..

सवाल: जिले में कुछ थाने ऐसे है जहाँ थानेदार सेटिंग के दम पर लंबे समय से थानेदारी कर रहे हैं और उनकी उच्च अधिकारियों से कई बार शिकायत भी हो चुकी है.. आप नए हैं, आप तक भी शिकायत पहुंचेगी, इसके बारे में क्या कहेंगे?

जबाव: मेरा पूरा फोकस थाने की कार्यप्रणाली पर रहेगा कि थाने से भ्रष्टाचार या अन्य किसी तरह की शिकायत न आये और इसमें जो पुलिसकर्मी लगे हुए हैं वो पूरी ईमानदारी के साथ अपना काम करें। इसके बावजूद अगर कोई शिकायत आती है तो इस पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

 

सवाल: बीजेपी की सरकार है आप के काम में यदि कोई गलत राजनीतिक दबाव आता है तो कैसे निपटेंगे?

जबाव: पुलिस का कार्य किसी पॉलिटिकल दवाब में नहीं होता है। पुलिस IPC, CRPC और जो संविधान है उसके अंतर्गत कार्य करती है और मैं भी उसी हिसाब से काम करुंगा। 

 

रोहित सिंह सजवान का बायोडाटा

रोहित उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल के रहने वाले हैं। ये तेज-तर्रार युवा आईपीएस हैं। इनका बैच 2013 का है। बीते सात महीने से ये एसपी सिटी (उत्तरी), गोरखपुर के पद पर तैनात थे। 31 वर्षीय रोहित के पिता एक प्राथमिक विद्यालय में टीचर हैं और मां हाउस वाइफ हैं। ये परिवार में सबसे बडे़ बेटे हैं इनसे छोटे दो भाई और हैं। जिनमें एक नोएडा में प्राइवेट नौकरी करता है और दूसरा काम्पटीशन की तैयारी कर रहा है। इनके बारे में मिली जानकारी के मुताबिक इनकी पोस्टिंग स्वयं सीएम ने की है। महराजगंज में काफी लंबे समय बाद डायरेक्ट आईपीएस की तैनाती की गयी है जो जिले के नेताओं के लिए चुनावी सीजन में भारी पड़ने वाला है। रोहित की छवि नेताओं के बेवजह के फर्जी दबावों को न मानने वाले अफसर की है। इनके कई बैचमेचों ने डाइनामाइट न्यूज़ को बताया कि इन्हें दबाव मुक्त होकर काम करना ज्यादा पसंद है। मतलब यह कि ट्रांसफर-पोस्टिंग में दलालों की तो बैंड बजनी तय है। देखना है पहली बार जिला पाये रोहित महराजगंज में सीएम की अपेक्षाओं पर कितना खरा उतरते हैं?

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार