महराजगंजः सोनौली नगर पंचायत में सालभर में ही खुलने लगा भ्रष्टाचार का काला चिट्ठा.. हुये बड़े खुलासे

डीएन संवाददाता

महराजगंज के सोनौली नगर पंचायत में किस कदर भ्रष्टाचार व्याप्त है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि यहां अब जनता चेयरमैन कामना त्रिपाठी के खिलाफ उठ खड़ी हुई है। लोगों ने कई ऐसे चौंकाने वाले खुलासे किये हैं जिसे जानकर सभी दंग है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें पूरा मामला


महराजगंज: सोनौली की जनता ने एक उम्मीद लेकर दलबदलू नेता सुधीर त्रिपाठी की पत्नी कामना त्रिपाठी को प्रथम महिला चेयरमैन के रूप में रहनुमाई करने का अवसर दिया। उन्होंने जब पदभार संभाला तो लोगों में बदलाव की एक नई उम्मीद जागी। लेकिन लोगों की सोच के बिल्कुल विपरीत दलबदलू पति की राह का अनुशरण करते हुए महिला चेयरमैन ने भी दगा दे दिया। सत्ता संभालने के बाद वह यह भूल गई कि क्षेत्र में कामकाज और विकास कार्य के लिये उन्हें लोगों ने चुना था।     

यह भी पढ़ेंः महराजगंजः नगर पंचायत सोनौली में भ्रष्टाचार चरम पर,जनता ने खोला मोर्चा  

नेपाल से सटे होने के नाते महराजगंज में चेयरमैन सार्वजनिक जमीनों को अस्थाई आवंटित कर मोटी रकम कमा रही हैं। समाजसेवी दीपक त्रिपाठी ने डाइनामाइट न्यूज़ से विशेष बातचीत में बताया कि समूचे नगर पंचायत में किस तरह से सालभर में ही भ्रष्टाचार का काला चिट्ठा खुलने लगा है। क्षेत्रवासियों का भी यह कहना है कि यहां महिला चेयरमैन प्रतिनिधि अपनी धौंस चलाते हैं और निडर होकर दलाल मनचाहे कार्य इनसे कराते है। हद तो तब हो गई जब नगर पंचायत में जो भी भर्तियां हुई हैं इसमें भी जबरदस्त तरीके से भ्रष्टाचार किया गया।     

यह भी पढ़ेंः खौफनाकः घर से गायब बच्ची का मिला शव.. चेहरे को तेजाब से झुलसाया, रेप कर हत्या की आशंका  

 

 

समाजसेवी दीपक त्रिपाठी ने भ्रष्टाचार को लेकर खोली आवाज

 

यहां भ्रष्टाचार की जड़ की पैठ इतनी गहरी हो गयी है कि आम जन मानस इनसे छुटकारा पाने को छपटा रहा है। आम जनता की नब्ज टटोलने जब डाइनामाइट न्यूज़ की टीम सोनौली पहुंची तो यहां हरफतरफ लोगों ने जो सच्चाई बयां कि वह चौंकाने वाली थी।  

यह भी पढ़ेंः महराजगंजः निर्माणाधीन मकान में मिस्त्री से बुरी तरह मारपीट.. वजह जानकर रह जायेंगे दंग  

सभी ने चेयरमैन के विकास कार्यों की पोल खोलते हुये बताया कि क्षेत्र की हालत पहले से भी बदतर हो चुकी है। चेयरमैन की कुर्सी पर आसीन होने के बाद वह जनता से किये अपने वायदों को भूल गई है और क्षेत्र का बंटाधार होकर रह गया है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार