महराजगंज: संदिग्‍ध परिस्थितियों में विवाहिता की मौत, हत्‍या के शक में परिजनों ने अंतिम संस्‍कार रोका

डीएन ब्यूरो

युवती की तीन साल पहले ही शादी हुई थी, मृतक विवाहिता के परिवार के लोगों का आरोप है उसकी हत्‍या की गई है। उसे हृदयाघात नहीं हुआ है विवाहिता का पति झूठ बोलकर किसी तरह बचना चाह रहा है।

मृतका के परिजनों ने शव का अंतिम संस्‍कार करने से रोका
मृतका के परिजनों ने शव का अंतिम संस्‍कार करने से रोका

महराजगंज: जिले के मिठौरा क्षेत्र के एक गांव में संदिग्‍ध परिस्थितियों में एक विवाहिता की मौत हो गई। पति की ओर से कहा जा रहा है कि मौत हृदयाघात से हुई है जबकि मृतक विवाहिता के परिजनों का कहना है कि उसकी हत्‍या की गई है। मृतका के परिजनों ने शव को रोककर रखा हुआ है। पुलिस को मामले की सूचना दे दी गई है।

यह भी पढ़ें: यूपी एसटीएफ की मुठभेड़ में बावरिया गिरोह का 1 लाख का इनामी बदमाश घायल

महराजगंज में मिठौरा क्षेत्र के सिन्दुरियां गांव के बैजनाथ की शादी डगरूपुर की सीमा से तीन साल पहले हुई थी। बैजनाथ के अनुसार बीती रात 3:30 बजे नल पर पानी लेने जाते समय उनकी पत्‍नी गिर गईं थी। जिसके कारण उन्‍हें हृदयाघात हो गया था। आनन फानन में रात को ही अस्‍पताल लेकर गए जहां डॉक्‍टर ने हृदयाघात की बात कहते हुए मृत घोषित कर दिया था।

यह भी पढ़ें: महराजगंज में ग्राहक सेवा केंद्र के संचालक की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्‍या

जबकि विवाहिता सीमा के परिजनों का आरोप है कि उसकी हत्‍या की गई है। हत्‍या को छुपाने के लिए शव का पोस्‍टमार्टम नहीं कराया गया है। शव को अंतिम संस्‍कार के लिए ले जाते समय परिजनों ने शव को रुकवा लिया। मृतक सीमा के परिजनों की मांग है कि पोस्‍टमार्टम किए बिना अंतिम संस्‍कार नहीं होने दिया जाएगा। पुलिस को सूचना दे दी गई है।

यह भी पढ़ें: फतेहपुर जिले के दिवलान घाट पर हो रहे अवैध खनन पर प्रशासन मौन

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार