महराजगंज: जहरीली शराब से हाहाकार के बाद जागा आबकारी विभाग, जिले की दुकानों पर की जांच

डीएन ब्यूरो

प्रदेश में जहरीली शराब से बाराबंकी के बाद सीतापुर में मौतों के बाद आज जिले का प्रशासन कुंभकर्णी नींद से जागा और उसने सिसवा बाजार क्षेत्र की तमाम शराब और बीयर की दुकानों की जांच पड़ताल की।

शराब की दुकान पर जांच करते अधिकारी
शराब की दुकान पर जांच करते अधिकारी

सिसवा बाजार (महराजगंज): जिले के उपनगर सिसवा बाजार में शुक्रवार को आबकारी विभाग की टीम ने सिसवा कस्बे सहित क्षेत्र के सभी बीयर और अंग्रेजी शराब की दुकानों पर जांच पड़ताल की। साथ ही स्थाई लाइसेंस को दुकानों पर रखने और  परिसर को स्वच्छ रखने का निर्देश भी दिया गया।

यह भी पढ़ें: बाराबंकी में जहरीली शराब से 10 की मौत, ठोस कार्रवाई के बजाय लीपापोती में जुटी सरकार

आबकारी निरीक्षक राकेश कुमार यादव के नेतृत्व में सिसवा कस्बे सहित क्षेत्र के शराब व बीयर तथा देशी दुकानों की जांच की गयी। राकेश यादव ने बताया कि कई दुकानों पर अस्थाई लाइसेंस रखे थे। उन अनुज्ञापियों को तत्काल शराब दुकानों पर स्थाई लाइसेंस, पूर्ण सम्बन्धित दस्तावेज रखने और परिसर को स्वच्छ रखने का निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें: बाराबंकी जहरीली शराब कांड पर स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा- जांच समिति ने 48 घंटे में मांगी रिपोर्ट, होगी सख्‍त कार्रवाई

इसी दौरान बेलवा घाट व चैनपुर में छापेमारी की गई है। जहा अक्सर कच्ची शराब बनाने का कार्य किया जाता है। इस दौरान राकेश यादव ने बताया कि इस प्रकार के निरीक्षण कार्य आगे भी जारी रहेंगे। जांच टीम में सिपाही राघवेंद्र प्रताप सिंह व रामसूरत चौरासिया आदि रहे।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार